घटना चेन्नई की है. दो महिलाओं ने एक 38 वर्षीय आदमी को मार कर अपने ही घर में सीमेंट में चुनवा दिया. अवादी की एक झोपड़ी में एक आशिक़ का वो अंजाम हुआ, जो उसने कभी सोचा भी नहीं होगा.

38 वर्षीय आर. सुंदर, 34 वर्षीय अमुथा के साथ रिश्ता बनाना चाहता था. अमुथा विधवा है और दो बच्चों की मां है. सुंदर कई दिनों से उसका पीछा कर रहा था और उस पर रिश्ता बनाने का दबाव बना रहा था. लेकिन अमुथा पहले ही किसी दूसरे आदमी, दीवान के साथ रहने का मन बना चुकी थी.

पुलिस ने बताया कि सुंदर एक ड्रग एडिक्ट और नशेड़ी था. अमुथा उसे कई बार बता चुकी थी कि वो उसके साथ नहीं रहना चाहती, लेकिन वो उसकी बात समझ ही नहीं रहा था.

चीज़ें और ख़राब हो गयीं, जब सुंदर अमुथा की ननद राजेश्वरी को भी परेशान करने लगा. अमुथा के बच्चे राजेश्वरी के पास ही रहते हैं. सुंदर, राजेश्वरी से अमुथा के बच्चों को वापस भेजने के लिए उस पर दबाव बनाने लगा.

उन्होंने दीवान से सुंदर की शिकायत की और उसने एक प्लान बनाया. अमुथा ने सुन्दर को अपने घर बुलाया. जब वो अमुथा से बात कर रहा था, तब दीवान अपने दोस्त गोपी के साथ आया और उसने सुन्दर को चाकू मार दिया. उसने उसके सीने पर कई वार किये. दीवान और गोपी ने झोपड़ी में ही एक गड्ढा खोदा और सुंदर की बॉडी को उसमें डाल दिया. उसके ऊपर उन्होंने कंक्रीट डाल दिया और बॉडी को ठिकाने लगा दिया.

Source: Dnaindia

ये खून रविवार (3 सितम्बर) को हुआ था पर सुंदर की मां ने गुरुवार को उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट करायी. पूछताछ में अमुथा और राजेश्वरी ने गुनाह क़बूल लिया. शनिवार को अमुथा के घर से सुंदर की बॉडी मिली. दीवान और गोपी अभी भी फ़रार हैं. दोनों महिलाओं को पुलिस द्वारा गिरफ़्तार कर लिया गया है.

Source: Newindianexpress