दो दिन पहले ख़बर आई थी कि मुंबई एलफिन्सटन रेलवे पुल पर हुई भगदड़ के दौरान एक दम तोड़ती औरत के साथ छेड़-छाड़ की गयी थी. अब एक-दूसरे वीडियो के आने पर ये ख़बर ग़लत साबित हो गयी है. इस वीडियो के अनुसार, वो आदमी महिला की मदद करने का प्रयास कर रहा था. पहली ख़बर 'द हिन्दू' ने छापी थी, जिसमें कहा गया था कि भगदड़ में एक मरती हुई महिला के साथ छेड़-छाड़ करने की कोशिश की गयी थी.

इसके बाद वीडियो में दिखाई दे रहे आदमी के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई करने की मांग की जा रही थी.

दूसरा पहलू:

सोशल मीडिया पर एक दूसरा वीडियो भी वायरल हो रहा है, जो इस ख़बर का खंडन करता है. पहला वीडियो केवल 8 सेकंड का था, जिसके आधार पर ख़बर बना दी गयी थी. दूसरे वीडियो से पता चला है कि आदमी असल में महिला की मदद करने का प्रयास कर रहा था.

अब अख़बार से माफ़ी मांगने के लिए कहा जा रहा है. गौरतलब है कि इस दुर्घटना में 23 लोगों की मौत हो गई है.

Source: Thelogicalindian