एक मां जन्म देती है

एक मां अपने ख़ून से उस नन्हीं जान को सींचती है

एक मां अपने बच्चे के लिए सब कुछ न्यौछावर कर देती है

एक मां भगवान से भी ऊपर होती है

लेकिन उस मां को क्या दर्जा मिलेगा, जो अपने दो दिन के बच्चे को किसी और मां-बाप के हाथ में सौंप देती है?

भारतीय भावनाओं के हिसाब से, कोई कपल तब तक एडॉप्शन के बारे में नहीं सोचता, जब तक वो हर तरह की कोशिश कर के थक नहीं जाते. एडॉप्शन ज़्यादातर भारतीय कपल्स की पहली चॉइस कभी नहीं होती. इसके पीछे एक कारण उस बच्चे का 'अपना ख़ून' न होना भी होता है. इसलिए जब कभी लोग बच्चा अडॉप्ट करने की सोचते हैं, तो ज़्यादातर अपने ही परिवार के किसी बच्चे को गोद लेते हैं.

गोद लेने वाले मां-बाप से ठीक उलट, समाज की नज़र में उस औरत की जगह काफ़ी नीचे होती है, जो ख़ुद अपने बच्चे को गोद देती है. 'कैसी मां होगी, जिसने अपने ही बच्चे को किसी और को दे दिया'... अमूमन इन शब्दों से उसके Character, उसके मां होने का चित्रण किया जाता है.

ये सभी बातें इसलिए कही गयीं क्योंकि ये ज़रूरी थी. जिस मां की कहानी आज आपके सामने लेकर आये हैं, उसकी स्टोरी बताने से पहले इन बातों पर बात करना भी ज़रूरी था.

Hannah Mongie दो दिन पहले एक ख़ूबसूरत से बच्चे की मां बनी थी और ठीक दो दिन बाद उसने उस बच्चे को किसी और को देने का फ़ैसला किया. अपने बच्चे को गोद देने से पहले उसने एक वीडियो बनाया, ताकि भविष्य में उसका बच्चा अगर ये जानने की कोशिश करे कि उसे जन्म देने वाली मां कौन थी, तो उसे ये याद रहे कि उसकी मां उससे सच में बहुत प्यार करती थी. इसी प्यार के चलते उसने अपने बेटे को किसी और को दे दिया.

कौन सी मां ऐसा करेगी?

Hannah को एक लड़के से प्यार हुआ और दोनों साथ रहने लगे. Hannah प्रेग्नेंट थी, दोनों ख़ुश थे कि उनकी ज़िन्दगी में एक नया मेहमान आने वाला है लेकिन कुछ ही दिनों में इस बच्चे के पिता की मौत हो गयी. इस सदमे से उबरने में Hannah को समय लगा और तब तक वो ये फ़ैसला कर चुकी थी कि वो इस नन्हीं सी जान को वो परवरिश देने में असफ़ल है, जो उसे मिलनी चाहिए. इसलिए अपनी डिलीवरी से पहले से उसने उस बच्चे के लिए नए मां-बाप ढूंढे. ये सब करना उसके लिए आसान नहीं था... उसने कभी नहीं सोचा था कि वो अपने बच्चे को किसी और को देगी, लेकिन किस्मत ने ऐसी पलटी खायी कि Hannah उसके आगे झुक गयी. उसने अपने बेटे का नाम भी रख लिया था... और जब वो इस दुनिया में आया, उसे दो दिन अपने साथ रखने के बाद Hannah ने उसे उसके नए मां-बाप के हाथों सौंप दिया. अपनी जान के टुकड़े के साथ बिताई आखरी कुछ लम्हों में उसने एक वीडियो बनाया, जिसे देखने और सुनने वला हर इंसान भावुक हो गया.

ये वीडियो अंग्रेज़ी में है. हमने इसका हिंदी अनुवाद करने की कोशिश की है. उम्मीद है कि इसे देखने के बाद Hannah जैसी किसी मां के प्रति आप राय बनाने से पहले सोचेंगे.

ये मेरा बेटा है Tagg. मैंने पिछले साल Tagg का नाम एडॉप्शन के लिए डाला था. ये वीडियो में इसलिए बना रही हूं ताकि बड़े हो कर उसे कभी ये न लगे कि मैंने उसे छोड़ दिया या उसे प्यार नहीं किया. मैं चाहती हूं कि उसे ये पता रहे कि मैंने उससे ज़्यादा प्यार आज तक किसी से नहीं किया.
जो लोग ये वीडियो देख रहे हैं, मैं चाहती हूं वो ये जानें कि अपने बच्चे को किसी और को देने में किसी भी मां को ख़ुशी नहीं होती. ये शायद उसके लिए सबसे भावुक और मुश्किल पल होता है. इसलिए किसी ऐसी मां को Judge करने से पहले ये ज़रूर सोचें. कोई मां ऐसा करने का नहीं सोचती, लेकिन अगर वो ऐसा करती है, तो कोई कारण होता है. मैं ऐसा अपने बेटे की ख़ुशी के लिए कर रही हूं. मैं उससे इतना प्यार करती हूं कि उसे इतना प्यार करने के बावजूद मैं उसे ख़ुद से दूर भेज रही हूं. ये उसके लिए मेरे प्यार की चरम सीमा है कि मैं अपनी ख़ुशी क़ुर्बान कर रही हूं.

मां बनना शायद बलिदान का दूसरा नाम है.

Source: Love What Really Matters