बुधवार सुबह सीबीआई ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर गुरुग्राम के रेयान स्कूल में हुई 8 साल के प्रद्युमन की हत्या के आरोपी को बेनकाब किया था. सीबीआई ने अपनी प्रेस कॉन्फ़्रेंस में बताया था कि प्रद्युमन की हत्या 11वीं के एक छात्र ने एग्ज़ाम को स्थगित कराने के लिए की थी. इस पर लड़के के पिता का कहना था कि सीबीआई जानबूझ कर मेरे बेटे को फंसाने की साजिश कर रही है.

लेकिन आज ख़बर आ रही है कि 16 साल के ग्यारहवीं के इस छात्र ने सीबीआई के सामने अपने अपराध को स्वीकार कर लिया है. सीबीआई का कहना है कि लड़के ने इस घटना को 2 से 3 मिनट में अंजाम दिया. लड़के को कल जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के समक्ष पेश किया गया था, जहां सीबीआई ने कोर्ट में लड़के की रिमांड के लिए अर्जी डाली थी. कोर्ट द्वारा सीबीआई की इस अर्जी को स्वीकार कर लिया गया था.

सीबीआई के एक अधिकारी का कहना है कि 'लड़का इस इरादे के साथ ही स्कूल पहुंचा था कि उस दिन पक्का किसी की मौत होनी है. वो स्कूल अपने साथ चाकू भी लेकर आया हुआ था. प्रद्युमन के साथ बस यही ग़लत हुआ कि वो ग़लत समय पर ग़लत जगह पर मौजूद था.'

सीबीआई ने अपनी रिपोर्ट में ये भी बताया कि लड़के ने अपने सहपाठी को कहा था कि आज उसने कुछ ऐसा किया है कि जिससे एग्ज़ाम नहीं होगा. इसके साथ ही सीबीआई ने कहा कि 'ये वही लड़का था, जिसने टॉयलेट से भाग कर सबको प्रद्युमन के मरने की सूचना दी थी.'

Source: timesnownews