अगर आप एक Harvard स्टूडेंट हों और आपको Dissertation सबमिट करनी हो, तो आप क्या करेंगे? शायद कुछ निबंध लिखेंगे या कोई रिसर्च रिपोर्ट तैयार करेंगे? ज़्यादातर स्टूडेंट्स करते भी यही हैं, लेकिन एक स्टूडेंट ने ये सारे नियम उलट कर रख दिए हैं.

21 वर्षीय Obasi Shaw, Harvard के सीनियर स्टूडेंट हैं. Shaw ने कुछ ऐसा किया, जो अब तक इस यूनिवर्सिटी में नहीं हुआ था. Shaw ने Dissertation के तौर पर एक रैप एल्बम दी. चौंकाने वाली बात तो ये है कि इसके लिए उन्हें A ग्रेड भी मिल गया.

Georgia के रहने वाले Shaw को इसके लिए A- दिया गया, जो सेकंड हाईएस्ट ग्रेड है. 'Liminal Minds' की ये एल्बम बनाने में Shaw को एक साल का समय लगा था. इस एल्बम में दस गाने हैं, जो अलग-अलग करैक्टर्स के नज़रिए से लिखे गए हैं.

ये एल्बम उन्होंने Geoffrey Chaucer के The Canterbury Tales से प्रेरित होकर बनायी है. इस एल्बम का केंद्र, 'अमेरिका में काले लोगों की पहचान' है. उन्हें इस विषय पर एल्बम बनाने का आईडिया उनकी मां ने दिया था.

Shaw ने ये एल्बम "Amateur Mixing, Unmastered. Will Update When I Get It Professionally Done" के साथ SoundCloud पर अपलोड की है. अब तक इसे 72,000 बार सुना जा चुका है.

Shaw ने फ़ैसला किया है कि वो रैपिंग की अपनी हॉबी को ही आगे बढ़ाएंगे. इस साल वो गूगल के साथ एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर के तौर पर इंटर्नशिप भी करने वाले हैं.