भारत हो या कोई और देश, प्रॉस्टिट्यूशन के प्रति लोगों का नज़रिया हमेशा अजीब ही होता है. हालांकि माना जाता है कि प्रॉस्टिट्यूशन (वेश्यावृत्ति) सदियों से चल रहा है. ज्यादातर लोग इसके बारे में खुलकर बात करना पसंद नहीं करते हैं क्योंकि वो इस काम और इससे जुड़े लोगों, यानि सेक्स वर्कर्स को दोयम दर्जे का मानते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि कोई भी इस काम को अपनी मर्ज़ी से करता होगा? घर की आर्थिक स्थिति और परेशानियां इन लोगों को ये काम करने और इसका सहारा लेने के लिए मज़बूर कर देती हैं.

शायद ही कोई इस बारे में सोचता होगा कि दुनिया के सामने बिंदास रहने और लोगों को खुश करने वाले ये सेक्स वर्कर्स असलियत में कैसी ज़िन्दगी जीते हैं. हमेशा मुस्कुराकर लोगों का स्वागत करने वाले इन सेक्स वर्कर्स की हंसी के पीछे कितने ग़म और तन्हाई होती है, इसका हम लोग अंदाजा भी नहीं लगा सकते हैं.

आज हम आपको ऐसे ही सेक्स वर्कर्स की कुछ फोटोज़ दिखाने जा रहे हैं, जो बेहद संजीदा तरीके से खींची गईं हैं. इन फोटोज़ को उस टाइम लिया गया है, जब ये अपने काम में मशरूफ थे. इनमें से कुछ फोटोज़ बेहद पुरानी भी हैं. भले ही ये फोटोज़ सेक्स वर्कर्स की हैं, लेकिन इनमें कहीं भी किसी तरह की अश्लीलता नज़र नहीं आएगी.

1.

2.

3.

4.

5.

6.

7.

8.

9.

10.

11.

12.

13.

इन फोटोज़ को आगामी 9 जून को New York शहर की Daniel Cooney Fine Art Gallery में एक एग्जीबिशन में प्रदर्शित किया जाएगा. इन फोटोज़ के माध्यम से सेक्स वर्कर्स की हिस्ट्री को दर्शाने का प्रयास किया गया है. इस फ़ोटो सीरीज़ में Prostitute "Pros," Gigolos समेत सेक्स वर्कर्स और फोटोग्राफर्स के रिलेशन को भी बखूबी पेश किया गया है. ये स्टनिंग, रिवीलिंग फोटोज़ "Scarlett Muse" से ली गई हैं. इन तस्वीरों में सेक्स वर्कर्स के खास पलों को बेहद खूबसूरती के साथ पेश किया गया है.