स्टेडियम में गूंजता शोर, फैंस का सपोर्ट और सोशल मीडिया पर सराहना. किसी भी खिलाड़ी की हिम्मत बढ़ाने के लिए ये सारी चीज़ें बहुत मायने रखती हैं. लेकिन एक कड़वा सच ये भी ज़रूर है कि भारत में क्रिकेट से हट कर किसी और खेल को इतना सब कुछ नसीब नहीं होता. ख़ासकर जब बात फ़ुटबॉल की हो. इसके एक नहीं, कई उदाहरण हैं.

सबसे हालिया उदाहरण है शुक्रवार को Mumbai Football Arena में खेला गया मैच, जिसमें भारतीय फ़ुटबॉल टीम ने China Taipei को 5-0 से हरा दिया, लेकिन ये देखने के लिए सिर्फ़ 2000 लोग ही मौजूद थे. FIFA की रैंकिंग में 97 स्थान पाने वाली इस भारतीय टीम के स्ट्राइकर, सुनील छेत्री ने इस मैच में अपनी तीसरी अंतर्राष्ट्रीय Hat-Trick भी स्कोर करी. ख़ाली पड़े इन स्टैंड्स को देख कर देश में फ़ुटबॉल की स्थिति तो साफ़ है. इस मैच के बाद छेत्री दर्शकों की कमी की वजह से दुखी थे.

उन्होंने शनिवार को एक वीडियो ट्वीट करते हुए भारतीय फ़ुटबॉल फैंस से गुहार लगायी कि भारतीय फ़ुटबाल टीम को सपोर्ट करें और इस खेल में रुचि दिखाएं. सुनील का कहना था कि बात सिर्फ़ तारीफ़ और तालियों की नहीं है, बात है इस खेल का हिस्सा बनने की. फिर चाहे आलोचना करनी हो, विचार-विमर्श करना हो या सुझाव देना हो, वो सब स्टेडियम में आकर करें. इससे टीम को प्रोत्साहन मिलेगा और भारतीय फ़ुटबॉल को नयी दिशा.

दो हफ़्ते में शुरू होने वाले फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप के लिए फैंस ज़ोर-शोर से उत्साहित हैं. ऐसे में इस वीडियो में दिया गया संदेश सभी को सिर्फ़ देखना ही नहीं, इसमें की गयी अपील पर अमल भी करना चाहिए. देखिये ये पूरा वीडियो

Source: TOI