विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की छवि एक मददगार नेता के रूप में है, जो मुसीबत में फंसे लोगों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहती हैं. विदेश मंत्री ट्विटर पर भी काफ़ी सक्रिय रहती हैं और वहां से ट्वीट के माध्यम से लोगों की मदद करती हैं. सुषमा स्वराज ने कई बार विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों की मदद की है और उन्हें सुरक्षित भारत लाया है.

Source: NDTV

इस बार सुषमा ने सउदी अरब में गुलाम बना ली गई भारतीय नर्स, Mendonco को वापस लाने की ठानी है. सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके सउदी में भारत के राजदूत जावेद अहमद को नर्स की सहायता करने के लिए कहा है.

46 वर्षीय Mendonco को 19 जून, 2016 में कतर के ज़रिए तस्करी करके सऊदी अरब ले जाया गया था. Mendonco की अपने परिवार से आखिरी बार बात दिसंबर 2016 में हुई थी.

कर्नाटक की रहने वाली Mendonco को एक एजेंट, कतर में 25000 रुपये प्रति महीना की नौकरी दिलाने का वादा करके ले गया था. लेकिन वहां पर उसने उसे 5 लाख में बेच दिया. Mendonco को खरीदने वाले अब उसे वापस छोड़ने के लिए 4.32 लाख रुपये मांग रहे हैं.