कभी-कभी इंसान की ज़िन्दगी में ऐसी घटना हो घटित हो जाती है, जिसकी उसने कल्पना तक भी नहीं की होती है. ऐसी घटनाएं कई बार ख़ुशी लेकर आती हैं, तो कभी दुखों का पहाड़ भी लाती हैं. ऐसा ही कुछ हुआ एक व्यक्ति के, जिसे एक टैंक की ईंधन वाली टंकी में कई सारी Gold Bullion (सोने की ईंट) मिली हैं.

55 वर्षीय Nick Mead, जिनको तरह-तरह के टैंक कलेक्ट करने का शौक है, ने हाल ही में 30,000 ब्रिटिश पाउंड यानी कि लगभग 23 लाख रुपये में टैंक का एक नया मॉडल खरीदा. लेकिन उनकी किस्मत में तो कुछ और ही था 23 लाख रुपये खर्च करके खरीदे गये Russian T54/69 टैंक के फ़्यूल कम्पार्टमेंट में उनको 2 मिलियन ब्रिटिश पाउंड यानी कि 15 करोड़ रुपये के 5 Gold Bullion (सोने की ईंट) उस समय मिले जब वो अपने इस नए टैंक को अपने 150 मिलिट्री वाहनों के कलेक्शन में शामिल करने जा रहे थे. जब उन्होंने फ़्यूल टैंक में सोने की ईंटें देखीं, तो वो चौंक गए.

वो और उनके मकैनिक Todd Chamberlain ने फ़्यूल टैंक खोलते वक़्त पूरे प्रोसेस की रिकॉर्डिंग कर रहे थे, ताकि अगर कहीं उसमें किस तरह का हथियार या कोई बम मिले, तो इसकी जानकारी बम निरोधक दल को दी जा सके और ये बहुत ज़रूरी भी है. लेकिन, उन्होंने 5 किलोग्राम तक के वज़न वाली एक नहीं, बल्कि 5 गोल्ड बार्स को खींच कर बाहर निकाल लिया.

Todd ने कहा, 'हमने तुरंत ही इसका अनुमान लगा लिया कि इनकी कीमत 15 करोड़ से ज़्यादा है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उस वक़्त हमको समझ ही नहीं आया कि क्या करना चाहिए. वैसे भी आप 5-5 किलोग्राम की सोने की ईंटों को बेच भी नहीं सकते क्योंकि हर कोई इससे जुड़े कई सवाल करेगा. इसलिए हमने पुलिस को इसकी सूचना दी.'

Nick टैंक्स बहुत ज़्यादा चलाते हैं और वो Northants के Helmdon में स्थित अपने फ़ार्म्स में लोगों को इन टैंक्स को चलने का मौका भी देते हैं. उन्होंने सेना की लॉरी में भी ट्रेडिंग की है. उन्होंने T54/69 टैंक के बिकने का विज्ञापन eBay पर देखने के बाद अपनी Self-Propelled (स्वयं संचालित) बन्दूक को बेच दिया और 23 लाख रुपये की इस टैंक की डील की.

इससे पहले एक बार Todd और Nick को एक टैंक को खोलते वक़्त मशीन गन मिल चुकी हैं, इसलिए वो चिंतित थे कि कही इस बार भी उनको कही कोई बन्दूक न मिल जाए. Todd और Nick का मानना है कि गल्फ़ वार के दौरान ईराकी सैनिकों ने कुवैत में ये सोना लूटा होगा और बाद में टैंक पर कब्जा कर लिया गया होगा और उसे ब्रिटेन भेज दिया गया होगा.

Nick ने बताया, 'सबसे पहले उन्होंने फ़्यूल टैंक में एक छेद किया था और जब अन्दर देखा तो वो सोने की ईंटों से भरा हुआ था.'

पुलिस को सूचना मिलने के बाद, उनके दो अधिकारी आये और Gold Bars को ले गए और Nick और Todd को उसके बदले में एक रसीद दे दी.

मिलिट्री के जवानों ने इन गोल्ड बार्स को लन्दन में स्थित Safety Deposit Box में संग्रहित किया है. Nick कहते हैं कि अगर मुझे इस में से थोड़ा सोना नहीं भी मिलता है, तो कोई दुःख नहीं, क्योंकि मेरे पास मेरा टैंक तो है ही.

इस पूरे मामले पर Northamptonshire पुलिस के प्रवक्ता ने कहा, 'अभी हम कुछ कारणों की वजह से इस पर कोई टिप्पणी नहीं कर सकते हैं.'

Source: thesun