नाना पाटेकर के बाद तनुश्री दत्ता ने डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री के ऊपर साल 2005 में फ़िल्म 'चॉकलेट' की शूटिंग के दौरान बद्तमीज़ी करने का आरोप लगाया है. तनुश्री ने कहा कि निर्देशक ने उन्हें कपड़े उतार कर नाचने के लिए कहा था लेकिन इरफ़ान ख़ान और सुनील शेट्टी उनके समर्थन में खड़े हो गए थे.

Source: timesnownews

DNA को दिए साक्षात्कार में तनुश्री दत्ता ने कहा, 'वो इंसान(विवेक अग्निहोत्री) चाहता था कि मैं एक्टर(इरफ़ान खान) को Cues दूं. उस वक़्त एक्टर का क्लोज़-अप शॉट था, ये मेरा शॉट था भी नहीं. उन्हें बस एक ओर देख कर प्रतिक्रिया देना था. उस डायरेक्टर ने मुझसे कहा, 'जाओ कपड़े उतार कर नाचो, उसको Cues दो'.

Source: indianexpress

तनुश्री ने कहा कि इरफ़ान खान ने तुरंत उस वाकये को वहीं रोक दिया. उन्होंने(इरफ़ान) कहा कि वो बिना तनु्श्री के नाचे भी एक्टिंग कर सकते हैं. सुनील शेट्टी भी वहां मौजूद थे, उन्होंने आगे आ कर कहा कि अगर इरफ़ान को Cue की ज़रूरत है. तो तनुश्री की जगह मैं उसे Cue दे दूंगा.

पिछले कुछ सालों से विवेक अगनिहोत्री की पहचान एक दक्षिणपंथी समर्थक की बनी हुई है. वो अक्सर अपने ट्वीट की वजह से भी चर्चा में रहते हैं. हाल ही में Urban Naxal शब्द उनकी वजह से ही ट्रेंड कर रहा था.

तनुश्री दत्ता इससे पहले नाना पाटेकर के ऊपर भी यौन शोषण का आरोप लगा चुकी है. उनकी बेबाकी को देख कर उम्मीद की जा रही है कि हिन्दी फ़िल्म इंडस्ट्री में भी Me Too आंदोलन की शुरुआत होगी. तनुश्री के समर्थन में फ़रहान अख़तर और प्रियंका चोपड़ा ने ट्वीट किया है.

नाना पाटेकर ने इस प्रकरण पर अपनी चुप्पी तोड़ने के बाद हंसते हुए कहा कि वो तनुश्री दत्ता के ख़िलाफ़ क़ानूनी कदम उठाएंगे.