Why Fan Does Not Stop Rotating: चिलचिलाती गर्मी में पंखा (Fan) हमारे लिए हलकी राहत देने का काम करता है. ये पूरे कमरे में अपनी हवा फैलाता है. इसे इंसानों की सुविधा के लिए भले ही डिज़ाइन किया गया हो, लेकिन इसमें एक खामी है. जब हम स्विच ऑफ़ करते हैं, तब तुरंत पंखा नहीं रुकता, बल्कि अपनी स्पीड और अपने हिसाब से चलना बंद होता है. जब हम स्विच ऑफ़ करते हैं, तब भी आपने नोटिस किया होगा कि आपके रूम का पंखा काफ़ी देर तक चलता रहता है. 

आइए आपको बताते हैं कि पंखे का स्विच ऑफ़ करने के बावजूद (Why Fan Does Not Stop Rotating) ये तुरंत घूमना बंद क्यों नहीं होता है. 

how does fans work
Source: mikediamondservices

Why Fan Does Not Stop Rotating 

ये भी पढ़ें: जानिए क्या ज्वालामुखी में गिरकर किसी का बच निकलना मुमकिन है

पंखा काम कैसे करता है?

पंखे में आमतौर पर अवधारण तंत्र होता है. इलेक्ट्रिकल वायरिंग के साथ अवधारण तंत्र को ड्राइविंग तंत्र में भेजा जाता है, जिसमें मोटर, हब और ब्लेड शामिल होते हैं. मोटर को हब में लगाया जाता है, या फिर इसे वायरिंग के ज़रिए बाहर लगाया जाता है. पंखे के ब्लेड हब पर रोटर से जुड़ते हैं. ज़्यादातर सभी पंखे के आकार एक जैसे ही होते हैं. पंखे का काम ब्लेड के डिज़ाइन और ओरिएंटेशन द्वारा नियंत्रित होता है. यदि आप अपने पंखे के ब्लेड को करीब से देखते हैं, तो आप एक सपाट प्रोफ़ाइल के बजाय थोड़ा धनुष का आकार देखेंगे. (Why Fan Does Not Stop Rotating)

ये आर्किंग ब्लेड को हवा के माध्यम से काटने में मदद करता है और इसे अपने सोर्स से दूर और वेंटिलेशन के ज़ोन में धकेलता है. ये काटने और धक्का देने का एक्शन मोटर द्वारा संचालित होता है और कई हाई स्पीड रोटेशन की वजह से आपको लगातार हवा आती रहती है. पंखों का यूज़ सिर्फ़ पर्सनल स्पेस के लिए ही नहीं होता. ये कंप्यूटर और ऑटोमोबाइल रेडिएटर में भी वेंटिलेशन और उनकी कूलिंग की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए लगाए जाते हैं. यहां ये साइड या फिर ऊपर से नीचे के मैनर में लगाए जाते हैं. 

ceiling fans
Source: forbes

पंखा बंद करने पर ख़ुद क्यों नहीं रुकता है?

एक घूमते हुए पंखे में काफ़ी ज़्यादा गतिज ऊर्जा होती है, जो इसे इलेक्ट्रिकल एनर्जी से मिलती है. अगर आप पंखे को बंद कर देंगे, तब भी इसमें एनर्जी की कुछ मात्र बचती है, जिसका उपयोग ये हवा को नीचे करने के लिए करता है. इसका स्विच ऑफ़ करने पर इसमें कोई इलेक्ट्रिकल एनर्जी नहीं रह जाती है. लेकिन वो धीरे-धीरे अपनी बची हुई गतिज ऊर्जा का प्रयोग पूरा बंद होने से पहले हवा प्रतिरोध में करता है. इसी तरह बाकी रोटेट करने वाली मशीनरी जैसे मिक्सर, ड्रिल मशीन वगैरह भी कुछ इसी तरह की बिहेवियर दिखाते हैं. 

fan
Source: picdn

ये भी पढ़ें: जानिए क्या होता है जब हवाई जहाज़ या हेलीकॉप्टर पर गिरती है बिजली?

अगर पंखा तुरंत रुक गया तो क्या होगा?

एक थ्योरी के मुताबिक, अगर पंखा तुरंत रुक गया, तो बची हुई गतिज ऊर्जा को इसके फ़िक्स पार्ट्स यानि मोटर हाउसिंग, इलेक्ट्रिक वायरिंग आदि को अवशोषित करना पड़ेगा. इसकी वजह से अचानक रोटेशन से आने वाली एनर्जी तेज़ी से डाउन रॉड की तरफ़ ट्रांसफ़र होगी, जिससे ये टूट और मुड़ भी सकता है. बाकी बची हुई एनर्जी छत और पंखे दोनों में मैकेनिकल फिक्स्चर के टूटने का भी कारण बन सकती है. पंखे को तुरंत घूमने से रोकने के लिए, हमें एक ऐसा तंत्र विकसित करना होगा, जो बड़ी मात्रा में गतिज ऊर्जा को दूर ले जाए और पंखे पर गंभीर भार भी ना पड़ पाए. 

ceiling fan running
Source: hvacsee

इसके पीछे की साइंस काफ़ी दिलचस्प है.