साल 2012 में निर्भया रेप केस ने दिल्ली सहित पूरे देश के लोगों को अंदर से झकझोर कर दिया था. ऐसे ही लोगों में से एक 17 साल का सिद्धार्थ भी है, जिस पर निर्भया रेप केस का ऐसा असर पड़ा कि उसने रेप रोकने वाली डिवाइस का अविष्कार कर डाला.

17 साल का सिद्धार्थ एक बड़ा बिज़नेस मैन बनने का सपना रखता है. सिद्धार्थ को Physics में ज़्यादा रुचि हैं. इसी रुचि की वजह से उसने महिलाओं को एक अनोखा तोहफ़ा दिया है. देश में हो रहे बलात्कारों को रोकने के लिए सिद्धार्थ ने ElectroShoe डिवाइस तैयार की है. ये डिवाइस 0.1 Amp बिजली का झटका देने में सक्षम है.

सिद्धार्थ बताते हैं, 'डिवाइस की मदद से चप्पल में एक ऐसा सिस्टम फ़िट किया जाता है, जिससे ख़तरे की हालत में पुलिस और घरवालों को मदद के लिए तुरंत सूचना पहुंचाई जा सकती है. इस डिवाइस की ख़ासियत है कि जितना आप पैदल चलेंगे, उतना ही ज़्यादा ये चार्ज़ होगा. इस कॉन्सेप्ट को 'Piezoelectric Effect' नाम दिया गया है. इसमें एक रीचार्जे़बल बैटरी लगी है.'

सिद्धार्थ ने बताया कि इसे बनाना आसान नहीं था. इसे बनाते वक़्त काफ़ी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ा. अब ये डिवाइस बाज़ार में लॉन्च होने के लिए तैयार है, लोगों की प्रतिक्रिया जानने के बाद इस डिवाइस में बदलाव किया जाएगा.

महिलाओं को ElectroShoe को पूरी तरह चार्ज रखना है, ताकि हमलावर के संपर्क में आने पर ये उस पर अटैक कर सकें.

देश में आए दिन बढ़ती रेप की घटनाएं चिता का विषय बनी हुई हैं. ऐसे में सिद्धार्थ ने वो कर दिखाया, जिसके बारे में कोई सोच ही नहीं सकता. देश की महिलाओं के लिए इससे अच्छा तोहफ़ा और कुछ हो ही नहीं सकता.

Source : topyaps