अगर आप जानवरों को नासमझ और खुद से कम बुद्धिमान मानते हैं, तो ये ख़बर आपकी इस धारणा को तोड़ सकती है. वैसे तो आपने बहुत से बंदरों को देखा होगा, लेकिन आज जिस खास बंदर की बात हो रही है उसके बारे में जानकर आप दंग रह जाएंगे. इसकी बुद्धिमानी और टैलेंट के सामने तो खुद इंसान भी बौना दिखने लगेगा. इसके बारे में जानने के बाद आपको मानव विकास की पूरी प्रक्रिया पर विश्वास हो जाएगा. साथ ही आप ये भी मान जाएंगे कि असल में हमारे विकास की कड़ी में बंदरों ने एक अहम भूमिका निभाई है.

दरअसल, ये एक विशेष प्रकार की प्रजाति का बंदर है, जिसका नाम कांज़ी है. कांज़ी को रखने वाली Dr. Sue Savage-Rumbaugh कहती हैं कि आग कैसे जलायी जाती है, ये सीखने के लिए कांज़ी काफ़ी उत्साहित रहता था. कांजी जब पांच साल का था, तभी उसने लकड़ियों को इकट्ठा कर आग जलाना सीख लिया था. कांज़ी ने ये सब एक फ़िल्‍म 'क्‍वेस्‍ट फॉर फायर' को बार-बार देखकर सीखा और अब वो इतना एक्‍सपर्ट हो गया है कि वो बारबेक्‍यू और फ्राइंग पैन पर भी खाना बना लेता है.

सबसे खास बाते ये है कि कांज़ी का पसंदीदा भोजन ऑमलेट है. उसे भोजन पकाना और खाना दोनों खूब पसंद है.

हालांकि, आग जलाने में कांज़ी ने कहीं से मास्टर की डिग्री नहीं ली है, मगर आग कैसे जलानी होती है, यह वो बखूबी जानता है. वो सब जानता है कि कितनी दूरी से आग जलानी है ताकि वो आग से सुरक्षित रहे.

शोधकर्ताओं के मुताबिक, जैसा मनुष्य पहले पर्यावरण के दवाब के कारण आग सेक कर रहता था, कांज़ी वैसे नहीं रहता. उसके पास एक गर्म बिस्तर है, जहां वो हर रात सोता है. उसने आज तक आग की ज़रूरत भी नहीं समझी. मगर वो जानना चाहता था कि ये सब होता कैसे है?

आग पर खाना बनाने के अलावा कांज़ी को पत्थरों से चाकू बनाना भी आता है. यहां तक कि उसे Pac-Man खेलना भी पसंद है.

Dr. Sue ने बताया कि खाना बनाने का ये शौक उसमें बचपन से ही था, लेकिन वह उसे रोकती नहीं थीं और अपनी निगरानी में उसे खाना पकाने देती थीं.

काज़ी अपने आप को एक्सप्रेस करने और सीखने में काफ़ी रुची दिखाता है. रिसर्चर द्वारा भाषा को समझने वाला डिज़ाइन्ड Lexigram में करीब 400 संकेत नीहित हैं. जिसके सहारे वो आम इंसान के संकेतों को समझ सकता है.

35 साल का यह बंदर अब इंसानी संकेतों को आसानी से समझ लेता है. उसके पास अब एक शब्दकोश है, जिसकी मदद से वो इंसानों के साथ बातचीत में अपना योगदान दे सकता है. ऊपर तस्वीर में आप देख सकते हैं कि कांज़ी और उसकी बहन Dr. Sue से बातचीत कर रहे हैं.

देखिये ये बंदर अपने लिए किस तरह से खाना बनाने का इंतजाम कर रहा है. सबसे पहले उसने लकड़‍ियों को इकट्ठा कर आग जलाई.

आग जलाने के बाद उसने खाना पकाने के लिए कुछ सामग्री को लकड़ी में रखा.

उसके बाद उस सामग्री को उसने आग में अच्‍छे से पकाया.

आग में खाना पकने के बाद उसने बड़े ही स्‍वाद के साथ उसे खाया भी.

ये मज़ेदार वीडियो भी देखिये.

video source: telegraph

News source: unbelievable
All images source: telegraph