'ज़ख़़्म', 'हासिल', 'दुश्मन' और 'संघर्ष' जैसी फिल्मों में अपनी शानदार अदाकारी से दर्शकों का दिल जीतने वाले आशुतोष राणा. महेश भट्ट ने टीवी सीरियल 'स्वाभिमान' में उन्हें रोल दिया था और उसके बाद से उन्होंने पीछे मुड़ कर नहीं देखा. ये वही महेश थे जिन्होंने आशुतोष को सेट से बाहर निकाल दिया था क्योंकि उन्होंने महेश के पैर छूने की कोशिश की थी. हालांकि आशुतोष ने इसके बाद भी उनके पैर छूना नहीं छोड़ा, जब महेश ने उनसे इसका कारण पूछा तो उन्होंने बताया कि ऐसा उनके संस्कारों में हैं. महेश ने उन्हें गले से लगा लिया था और उन्हें 'स्वाभिमान' के अलावा करियर की पहली फ़िल्म भी महेश ने ही दी. वे भगवान शिव के बहुत बड़े भक्त हैं. वो अपने इस शौक को अपनी आस्था तथा धार्मिक विश्वास का रूप मानते हैं.

अपनी पहली फ़िल्म 'दुश्मन' में भी अपने पहले ही रोल से साइको किलर का किरदार निभाकर दर्शकों के रोंगटे खड़े कर दिए थे, फ़िल्म 'हासिल' से वे एक कैरेक्टर एक्टर के तौर पर स्थापित हो चुके थे, हालांकि वे आज भी अपनी शर्तों पर ही फ़िल्में करते है. वे बता चुके हैं कि फ़िल्में वे तभी करना पसंद करते हैं, जब उन्हें पैसों की ज़रूरत होती है.

तो आइए आशुतोष के जन्मदिन पर मार लीजिए उनके कुछ खास डायलॉग्स पर नज़रें

हैप्पी बर्थ डे आशुतोष.