'मुर्गी पहले आयी या अंडा'

इस सवाल से ज़्यादा तो ये सवाल पूछा जाने लगा है 'यार, ये ,मुर्गी आयी कहां से'

पूछा भी क्यों न जाए. चिकन तो एक पसंदीदा डिश है लेकिन हर खाने की तरह, इसकी गुणवत्ता का ख़्याल रखना और जानना भी ज़रूरी है.

आख़िर सेहत अच्छी रहे तो ज़िंदगी ख़ूबसूरत होती है. अब चिकन की बात हो तो सिर्फ़ KFC का नाम ही नहीं, बल्कि उसका स्वाद भी सबसे पहले याद आ जाता है. KFC के मेन्यू का हर एक आइटम आपको ये कहने पर मजबूर कर देता है 'Its Finger Lickin Good'. लेकिन आपकी टेबल पर पहुंचने से पहले, इसे तैयार करने की प्रक्रिया ही इसकी उच्च गुणवत्ता का प्रमाण है.

स्वाद में तो KFC को दस में से दस नंबर मिलते हैं और इसकी वजह है ये दस चीज़ें, जो इसे ख़ास बनाती हैं.

1) अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा नियमों का पालन करने वाले Venky's और Godrej जैसे प्रतिष्ठित सप्लायर्स से ही, KFC भारत में स्थानीय स्तर पर ग्रेड-ए चिकन लेता है.

Source: LifeHacker

2) KFC का कोई भी चिकन Processed नहीं होता.

100% असली Whole Muscle Chicken का ही प्रयोग किया जाता है क्योंकि 99.9% का स्वाद एक जैसा नहीं होता.

3) एक नहीं, दो नहीं, दस भी नहीं ... KFC का चिकन पूरे 34 Checks से गुज़रने के बाद ही आप तक पहुंचता है.

Source: amarketingexpert

4) ताज़गी सुनिश्चित करने के लिए, हर दिन KFC के प्रत्येक रेस्टोरेंट में सभी कुक अपने हाथ से ही चिकन बनाते हैं.

हर एक पीस की व्यक्तिगत रूप से जांच होती है.

5) परफ़ेक्ट स्वाद के लिए ताज़े चिकन को तैयार करने के बाद, कम से कम 170 डिग्री सेल्सियस में फ़्राई किया जाता है.

6) KFC में हर एक प्रोडक्ट की क्वालिटी का ख़याल रखना, मुख्य प्राथमिकता है.

जैसे ही किसी प्रोडक्ट का एक बैच तैयार होता है, Oven पर स्टिकर लगा कर उसकी टाइमिंग नोट कर ली जाती है. अब इस आइटम की Shelf Life से एक पल भी ज़्यादा इसे इस्तेमाल नहीं किया जाता. उदाहरण के लिए French Fries की Shelf Life सात मिनट की होती है. यदि उस निर्धारित समय में वो प्रोडक्ट नहीं बिकता, तो उस आइटम को बेचने योग्य नहीं माना जाता है. उसे हटा कर, नया फ़्रेश बैच बनाया जाता है.

7) KFC की सभी डिशेज़ में Zero Trans-Fat होता है.

8) किचन के सभी स्टाफ़ मेंबर्स हर आधे घंटे में अपने हाथ धोते हैं और सैनिटाइज़ करते हैं.

सारे बर्तन भी दिन में सात बार साफ़ करे जाते हैं.

Source: Giphy

9) कुकिंग के लिए RO वाले पानी का ही इस्तेमाल होता है.

Source: moziru

10) KFC में Veg और Non Veg खाना अलग-अलग तैयार किया जाता है.

तेल, बर्तन, मसाले, उपकरण, सभी अलग-अलग होते हैं. यहां तक की स्टाफ़ के कपड़े भी. हरा एप्रन Veg सेक्शन के लिए और लाल एप्रन, Non Veg स्टाफ़ के लिए.

Source: YouTube

तो अब सवाल ये नहीं कि चिकन आया कहां से, अब तो बस यही सवाल है कि अगली ट्रीट के लिए आप कब पहुंच रहे हैं KFC?

बेफ़िक्र हो कर अपने दोस्त-यारों और परिवार के साथ KFC के स्वाद का मज़ा लीजिये क्योंकि ये Finger Lickin Good तो है ही. साथ ही इसे तैयार करने की प्रक्रिया और KFC के योग्य कुक्स ये ख़्याल रखते हैं कि आपको मिले सबसे उत्तम क्वालिटी का चिकन.