यूं तो इंटरनेट हमारे लिए एक वरदान है. यहां जानकारियों का भंडार है. देश और दुनिया की ख़बरों को पलक झपकते ही पा लेते हैं. संचार के इस युग में यह सबसे शक्तिशाली माध्यम है. हालांकि कभी-कभी इंटरनेट पर अफ़वाहों का ऐसा दौर चलता है जिसे सब सच मान लेते हैं. तो आइए आज बताते हैं भारत के बारे फैलाई जा रहीं कुछ झूठी अफ़वाहों के बारे में....जिन्‍हें सच मान कर हम लोगों ने भी ख़ूब शेयर किया है.


1. दिवाली की रात वाली ये तस्वीर- दीवाली के मौके पर अक्‍सर स्‍पेस से खींची गई भारत की ये तस्‍वीर सोशल मीडिया पर धड़ल्ले से शेयर की गई है. यही नहीं, बताया तो यहां तक जाता है कि यह तस्‍वीर नासा ने खींची है.

Source: News

2. हमारा राष्ट्रगान दुनिया का सबसे बेहतरीन राष्ट्रगान है- एक अफ़वाह ये फैलाई जाती है कि हमारा राष्‍ट्रगान दुनिया का सबसे अच्‍छा नेशनल एंथम है. यही नहीं इसके साथ UNESCO का भी नाम जोड़ा जाता है. लेकिन आपको बता दें कि UNESCO ने अभी तक इस तरह का कोई ऑफिशियल एनाउंसमेंट नहीं किया है. तो अब किसी धोखे में न रहें.

Source: Voanews

3. एक महिला ने 11 बच्चों को जन्म दिया- ये अफ़वाह तो सबसे ख़तरनाक है. 11 बच्‍चों के साथ खड़े हॉस्‍पिटल स्‍टॉफ की फ़ोटो सोशल मीडिया पर काफी बार देखी जाती है. इसके नीचे एक नोट लिखा जाता है कि, 'एक भारतीय महिला ने 11 बच्‍चों को जन्‍म दिया है'. यह बिल्कुल ग़लत है. दरअसल यह 11 बच्‍चे सूरत के एक हॉस्‍पिटल में पैदा हुए हैं. और खास बात यह है कि इनकी जन्‍मतिथि 11.11.11 है. इन सभी की मां अलग-अलग है.

Source: Indianexpress

4. नाथुराम गोडसे और गांधी जी की ये तस्वीर- इसे आप महज़ एक इत्तेफाक ही कह सकते हैं कि गांधी जी की हत्‍या करने वाले नाथुराम गोडसे की कोई तस्वीर भी होगी. लेकिन रिवॉल्‍वर लेकर बगल में खड़े नाथूराम गोडसे वाली तस्‍वीर भी काफी वायरल हुई है. हम आपको इसकी सच्‍चाई बताते हैं. दरअसल यह इमेज एक ब्रिटिश फिल्‍म Nine Hours to Rama का एक सीन है बस और कुछ नहीं.

Source: Gsvfilms

5. अजगर ने एक इंसान को निगला - केरल में एक पॉयथन द्वारा आदमी को निगल जाने वाली तस्‍वीर भी फेक है. यह सब डिजिटल कैमरे से किया गया है. जिसमें कोई सच्‍चाई नहीं है.

Source: Arabnews

6. असम में रेप फ़ेस्टिवल- अफ़वाहों की भी एक सीमा होती है. सोशल मीडिया पर एक अफ़वाह फैलाई गई कि असम में रेप फेस्‍टिवल का आयोजन किया जाता है. जबकि स्‍थानीय लोगों ने हमेशा इस बात से इंकार किया है. इस मामले में असम की सीआईडी टीम ने इस फेकिंग न्‍यूज़ के ख़िलाफ एक्‍शन भी लिया है.

Source: Ibtimes

7. तीन सर वाला सांप- इस तीन सर वाले सांप को तो आपने भी ज़रूर देखा होगा या फ़िर सोशल मीडिया पर शेयर किया होगा. बताया जाता है कि इसे भारत में किसी सड़क किनारे देखा गया था. लेकिन जब इसकी सच्‍चाई जानेंगे तो आपको काफी हैरानी होगी. यह सिर्फ और सिर्फ फोटोशॉप का कमाल है. तो शेयर करने से पहले जांच लें.

Source: India

8. कुरकुरे में प्लास्टिक मिलना- सोशल मीडिया पर कुरकुरे में प्‍लास्‍टिक होने की ख़बर आपने बहुत बार सुनी और देखी होगी. सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल होते हैं जिसमें कुरकुरे को जलाते हुए दिखाया जाता है. लेकिन अब इसकी सच्‍चाई जान लें. दरअसल कुरकुरे एक कॉर्न मील है, जो कि स्वास्थ के लिए नुकसानदेह नहीं है. इस बात का दावा भारत की खाद्य सुरक्षा एजेंसियां भी कर चुकी हैं. हालांकि यह मेल्‍ट इसलिए होता है क्‍योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेड होता है.

Source: Techtimes

9. मौत का कॉल- अगर आपके पास 09141 नंबर से कोई कॉल आता है तो उसे रिसीव न करें. क्‍योंकि इसके रिसीव करते ही फोन से हाई-फ्रीक्‍वेंसी साउंड वेव निकलने लगेंगी जिससे आपको ब्रेन हैमरेज हो सकता है या फिर जान तक जा सकती है. ऐसे अफ़वाह भरे मैसेज़ तो कई बार आपके फोन में आ टपक पड़ते होंगे. इसे अफ़वाह तक ही रहने दें.

Source: Desiwhatsapp

10 आंखों में कॉन्टैक्ट लेंस का गलना– कॉन्टैक्ट लेंस के बारे में ये अफ़वाह फैलाई गई थी कि ज़्यादा हीट में ये मेल्‍ट हो जाते हैं. इससे आपकी आंखों की रौशनी भी जा सकती है. यह पूरी तरह से अफ़वाह है.

Source: Memegenerator

इस बात को नकारा नहीं जा सकता है कि इंटरनेट एक सशक्त माध्यम है. यह समय की मांग भी है. ऐसे में सूचनाओं का आदान-प्रदान होते रहना चाहिए. कोशिश करनी चाहिए कि अफ़वाहों से भरे मैसेज को फॉरवर्ड न करें, न ही किसी को प्रोत्साहित करें. लेकिन इस आर्टिकल को दोस्तों के साथ शेयर करना और फॉरवर्ड करना न भूलें.