हम हमेशा कहते हैं कि देश बढ़ रहा है, तरक्की कर रहा है. लेकिन कभी हमने ग़ौर किया है कि देश कैसे आगे बढ़ रहा है? किसी भी देश की तरक्की के लिए जो पैमाने स्थापित किए गए हैं, वो हैं GDP, GNP और प्रति व्यक्ति आय. इन सब के अलावा कई और कारक हैं, जिससे किसी भी देश की अर्थव्यवस्था के बारे में जान सकते हैं. दरअसल, उद्योग, सेवा और कृषि के द्वारा कोई भी देश अपनी अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करता है. हम यहां आपको अर्थव्यवस्था के बारे में ज्ञान नहीं दे रहे हैं, हम बस ये बताना चाहते हैं कि हमारे देश में कई ऐसे नगर और महानगर हैं, जिनकी वजह से हमारा देश चल रहा है. इन शहरों की पहचान अलग हो सकती है. आइए, उन शहरों के बारे में जानते हैं.

नई दिल्ली

नई दिल्ली भारत की राजधानी भी है. राजनीतिक और प्रशासनिक रूप से यह शहर काफ़ी समृद्ध है, मगर शहर के अंदर उद्योग की कमी है. हालांकि, शहर के बाहर गुरुग्राम और नोएडा महत्वपूर्ण औद्योगिक केंद्र हैं. इसके अलावा यहां ढेर सारे कॉलेज, यूनिवर्सिटीज़, मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज हैं.

Source: anmolksharma

कोलकाता

कोलकाता कभी अंग्रेज़ी हुकुमत की राजधानी थी. हिन्दुस्तान में इसे सस्ते शहरों में शामिल किया जाता है. समुद्री पोत होने के कारण इस शहर में नौकरी की संभावनाएं रहती हैं.

Source: myventure

मुंबई

मुंबई को देश की आर्थिक राजधानी भी कहा जाता है. इस कारणवश मुंबई भारत का सबसे महंगा शहर है. इस शहर में बैंक, व्यापार और फिल्मों का केंद्र होने के कारण यहां नौकरी की काफ़ी संभावनाएं है. यही कारण है कि यहां देश की विभिन्न जगहों से लोग आते हैं.

Source: News

चेन्नई

एक समय इसे लोग मद्रास के नाम से भी जानते थे. भारत के चार महानगरों में से चेन्नई भी एक है. देखा जाए, तो चेन्नई शुरु से ही दक्षिण भारत में राजनीतिक, शैक्षिक और आर्थिक गतिविधियों का केंद्र रहा है.

Source: Mallar

हैदराबाद

कभी इस शहर को मोतियों का शहर का जाता था, हालांकि अब इसे आईटी हब के रूप में भी जाना जाता है. औद्योगिक उदारीकरण के बाद यहां बहुत सी बड़ी फार्मेसी और बायो टेक्नोलॉजी कंपनियां भी हैं, जो नई अर्थव्यवस्था में बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं.

Source: Whatsup

बेंगलुरु

बेंगलुरु को सिलिकन वैली भी कहा जाता है. देश की कई प्रतिष्ठित आईटी कंपनीज़ हैं. साथ ही साथ बेंगलुरु में विश्वस्तरीय यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेज भी हैं. यह शहर विज्ञान संबंधी प्रतिभाओं के लिए है.

Source: Graphic

पुणे

पुणे को फ़िल्म इंस्टीट्यूट के लिए भी जाना जाता है. इसके अलावा महाराष्ट्र के औद्योगिक और आर्थिक विकास में पुणे ने बहुत बड़ा योगदान दिया है. ऑटोमोबाइल, फार्मेसी और शुगर उद्योग ने शहर को महाराष्ट्र का दूसरा सबसे बड़ा और भारत के महंगे शहरों में एक बना दिया है.

Source: Pune

जमशेदपुर

जमशेदपुर की स्थापना स्वर्गीय जमशेदजी नुस्सेरवांजी टाटा ने की और इसे भारत का औद्योगिक शहर भी कहते हैं. इसे स्टील सिटी के नाम से भी जाना जाता है. इस शहर में करीब 1000 से भी ज़्यादा उद्योग हैं.

Source: India

दुर्गापुर

इस शहर का निर्माण एक विशाल स्टील सिटी के लिए किया गया था. पश्चिम बंगाल ने जमशेदपुर को टक्कर देने के लिए इसका निर्माण किया था.जो काफ़ी हद तक सफ़ल भी रहा. हालांकि, यह शहर पर्यटन के लिहाज़ से भी उभर रहा है.

Source: Fasla

बिना इन शहरों के हिन्दुस्तान की कल्पना ही नहीं की जा सकती है. ये शहर, महज़ शहर नहीं बल्कि हिन्दुस्तान की बदलती तस्वीर की एक कहानी हैं.

Feature Image- Dhanbad