हर तरफ़ बाहुबली की होड़ है. आधा भारत आज जानता है कि कट्टप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा. फ़िल्म ने चार दिन में 600 करोड़ रुपये कमा लिए हैं. लोग 2015 से परेशान थे, इस राज़ को जानने के लिए कि कट्टप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा? लेकिन इस बड़े सवाल के पीछे वो शायद कुछ नज़रअंदाज़ कर गए. बाहुबली कुछ-कुछ करन-अर्जुन से मिलती थी. अब आप सबूत मांगेंगे, तो लीजिए हम साबित करते हैं.

1. सबसे पहले ये दोनों मां, जो अपने बेटे का सालों से इंतज़ार कर रही हैं. पूरा गांव ये मान चुका है कि इनके बेटे अब कभी नहीं आएंगे!

2. ये दोनों विलन, हीरो की मां को अपने हाथों से मारना चाहते थे, पर शायद अपनी मौत के लिए उन्हें ​ज़िन्दा छोड़ा हुआ था.

3. इन दानों बुज़ुर्गों को शायद सालों पहले मर ​चुके लोगों को पहचानने के लिए ही रखा गया था.

4. दोनों फ़िल्मों में देवी मां का Important सीन था, उनकी कृपा से ही विलेन मरता है!

5. दोनों फ़िल्मों में ये फ़ाइटर थे, जिन्हें कोई नहीं हरा सकता था. सलमान को रे​सलिंग रिंग में कोई नहीं हरा सकता था और बाहुबली को रणभूमि में.

6. और कट्टप्पा का ये स्टाइल तो सिर्फ़ शाहरुख खान ही कर सकते हैं!

क्यों सही पकड़े हैं कि नहीं!

जय माहिष्मति!