कहते हैं कि पढ़ने-लिखने की कोई उम्र नहीं होती और ये कहावत 96 साल की इस महिला पर बिल्कुल फ़िट बैठती है. मैक्सिको की रहने वाली Guadalupe Palaci की ख़्वाहिश है कि वो अपने 100वें जन्मदिन पर हाईस्कूल की पढ़ाई पूरी करें. इतना ही नहीं, वो कक्षा की सबसे उत्साहित छात्राओं में से एक हैं.

Source : IndiaTimes

अपनी अधूरी चाहत को पूरा करने की कोशिश कर रही Palaci को लोग प्यार से ‘Dona Lupita’ कह कर भी बुलाते है. इस बारे में बात करते हुए Lupita कहती हैं कि 'आज सबसे बेहतरीन दिन है. मैं अपना बेस्ट देने के लिए तैयार हूं.' दरअसल, बीते सोमवार को Southern State Of Chiapas स्थित High School में उनका पहला दिन था. ज़िंदगी के कई रूप देख चुकी Lupita, सफ़ेद पोलो शर्ट और ब्लैक कलर की स्कर्ट पहन स्कूल यूनिफ़ॉर्म में काफ़ी ख़ुश दिखाई दे रही थी.

Source : IndiaTimes

Tuxtla Gutierrez के High School Number 2 के छात्रोंं ने तालियां बजा कर उनका ज़ोरदार स्वागत किया. केमिस्ट्री और मैथ्स के नोट्स लेने के बाद उन्होंने डांस क्लास भी जॉइन की. दरअसल, Lupita का जन्म एक बेहद ग़रीब परिवार में हुआ था, जिस कारण वो बचपन में अपनी पढ़ाई करने के बजाये, खेती का काम कर अपने पेरेंट्स की घर का ख़र्च चलाने में मदद करती थी.

Source : IndiaTimes

वहीं बड़े होकर उन्होंने बाज़ार में मछली बेचने का काम शुरू कर दिया. Lupita ने दो शादी कीं, जिससे उनके 6 बच्चे भी हैं. 92 साल की उम्र में उन्होंने पढ़ाई कर, अपने अधूरे सपने को पूरा करने का फ़ैसला किया. 2015 में उन्होंने व्यस्कों के लिए Primary School Program में हिस्सा लिया और चार साल से भी कम समय में उन्होंने प्राइमरी व मीडिल दोनों स्कूल की पढ़ाई ख़त्म कर ली. वहीं व्यस्कों के लिए हाईस्कूल की पढ़ाई पूरी करने का कोई प्रोग्राम नहीं था, इसीलिए उन्होंने रेगुलर पब्लिक स्कूल में एडमिशन लिया. इतना ही नहीं, आगे चल कर वो शिक्षक बन कर बच्चों को पढ़ाना भी चाहती हैं.

भाई कुछ कर गुज़रने की चाहत हो, तो उम्र कभी आड़े नहीं आती. Guadalupe Palaci को उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं.

Source : IndiaToday