भारत में अगर किसी इंसान या जानवर का बच्चा किसी डिफ़ेक्ट के साथ पैदा होता है, तो यहां पर उसे भगवान का रूप या भगवान की तरफ से मिला कोई सन्देश मान कर पूजा जाने लगता है. ऐसे कई किस्से बीते दिनों ख़बरों में आ चुके हैं. ऐसा ही एक किस्सा असम से आ रहा है, जहां एक आंख के साथ पैदा हुए बकरी के बच्चे को भी लोगों द्वारा पूजा जा रहा है.

Source: metro

इस बकरी के बच्चे का जन्म पिछले महीने असम के एक गांव में हुआ था. जन्म से ही ये बच्चा साइलापिया (Cyclopia) नामक दुर्लभ डिफ़ेक्ट से ग्रसित था. इस डिफ़ेक्ट के कारण इस बच्चे का एक कान और एक ही आंख है. साथ ही ये कई तरह की विकृतियों से ग्रसित है. डॉक्टर्स के अनुसार, Cyclopia का मुख्य कारण है मस्तिष्क के दोनों भागों का अलग न होना है. इसके साथ ही इस तरह के डिफ़ेक्ट के साथ पैदा होने वाले जानवरों के बच्चों के ज़िंदा रहने की उम्मीद कम ही होती है. लेकिन गांव वाले इसे किसी चमत्कार से जोड़कर देख रहे हैं. इस बकरी के बच्चे को दूर-दूर के गांवों से लोग देखने आ रहे हैं.

Source: rajasthanpatrika

Metro News के मुताबिक, बकरी के मालिक मुखुरी दास ने कहा-

मैं तो इसे देखकर हैरान रह गया था क्योंकि ये किसी चमत्कार की तरह है और दूर-दराज के लोग इसे देखने आ रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि बकरी के इस बच्चे की देखभाल करना, उनकी जिम्मेदारी है और वो एक सामान्य बकरी की ही तरह उसकी देखभाल कर रहे हैं और उसे ख‍िला-पिला रहे हैं.

मुखुरी दास का मानना है कि इस बकरी के जन्म के बाद से उनकी किस्मत भी सुधर जाएगी. वो इस बात से खुश हैं कि इस बकरी के बच्चे को देखने बहुत से लोग आ रहे हैं, जिससे कि वो मशहूर हो रहे हैं.

वहीं डॉक्टर्स का मानना है कि इस तरह के डिफ़ेक्ट के साथ पैदा होने वाले जानवर जन्म के कुछ ही घंटो में ही मर जाते हैं, लेकिन आश्चर्य की बात है कि बकरी का ये बच्चा अभी भी ज़िन्दा है.

Video Source: Caters Clips

इस 'चमत्कारी' बकरी ने दर्जनों ग्रामीणों को अपनी ओर आकर्षित किया है. केवल इसी गांव के ही नहीं, बल्कि पड़ोसी गांवों के निवासी भी इसका आशीर्वाद लेने के लिए यहां आ रहे हैं.

Source: metro