वर्षों के लंबे इंतज़ार के बाद आख़िरकार वो दिन आ ही गया, जब Stratolaunc को दुनिया के सामने पेश कर दिया गया. माइक्रोसॉफ़्ट के को-फाउंडर Paul Allen ने दुनिया के सबसे बड़े एयर क्रॉफ़्ट Stratolaunc की झलक दिखाई. 2016 में Stratolaunc अपनी पहली उड़ान भरने वाला था, लेकिन तकनीकि दिक्कतों की वजह से ऐसा संभव न हो सका. Stratolaunc को देखने के बाद सभी की आंखें फ़टी की फ़टी रह गईं. इस विमान को बनाने का आईडिया माइक्रोसॉफ़्ट के को-फाउंडर Paul Allen का था.

अब आपको बताते हैं कि दुनिया का सबसे बड़ा एयर क्राफ़्ट Stratolaunc इतना ख़ास क्यों हैं:

1. Stratolaunc के 117.3 लंबे मीटर पंख हैं. Stratolaunc क्रिकेट पिच जितना 38 फ़ीट लंबा है.

2. इससे पहले दुनिया के सबसे बड़े एयर क्राफ़्ट का ख़िताब Space Goose के नाम था. Space Goose के पंख 97.536 मीटर लंबे थे.

3. जमीन से Stratolaunc की ऊंचाई 15.24 मीटर है. ये 4 मंज़िला इमारत के जितना ऊंचा है.

4. Stratolaunc में Six Pratt & Whitney इंज़न भी हैं, जो आम तौर पर बोइंग 747 के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं.

5. बिना ईंधन के इसका वज़न 226,796.185 किलो है.

6. इसमें 249,476 किलो वज़न उठाने की क्षमता है.

7. माइक्रोसॉफ़्ट Orbital's Rocket को भी लॉन्च करने की तैयारी में है.

8. Stratolaunc की सबसे ख़ास बात ये है कि ये सुमद्र में 2000 नीचे की गहराई तक जा कर, 3,704 किलोमीटर तक की दूरी तय कर सकता है.

9. आज Stratolaunc का पहला Fuel टेस्ट था. 2019 तक पूरी तरह से इसके उड़ाने भरने की उम्मीद जताई जा रही है.

Source : huffingtonpost