आपने टीवी पर Man Vs Wild ज़रूर देखा होगा. मांसाहारी लोगों के लिए वो रोमांचक है और शाकाहारियों के लिए Bear Grylls को खाते देखना किसी टॉर्चर से कम नहीं. उस शो का कॉन्सेप्ट है, कि बुरी से बुरी स्थिति में जीवित कैसे रहें. वो मजबूरी में कीड़े-मकौड़े खाता है, लेकिन Sofia, Bulgaria की रहने वाली Kremena Despinova को कीड़े खाना इतना पसंद है कि वो कीड़ों से अलग-अलग डिशेज़ बना रही है और एक्सपेरिमेंट कर रही हैं.

Kremena करीब दो साल से कीड़ों के व्यजनों को पूरी दुनिया में खोज रही हैं. वो कीड़ों को प्रोटीन का सबसे बेहतर स्रोत मानती हैं. उन्होंने बताया कि, 'मैं प्रोटीन के सर्वश्रेष्ठ स्रोत को खोज रही थी. वो स्रोत जिसमें हारमोन, एंटीबायोटिक, पेस्टीसाइड जैसा कुछ न हो और उसमें ज़रूरी अमीनो एसिड भी मिल जाए.

Kremena अब तरह-तरह के व्यंजन बनाती हैं. जिसमें क्रिकेट यानि झींगुर के आटे का पैनकेक, उस पर भैंस के कीड़ों की लेयर और सिरप होता है.

इसके अलावा Guacamole और क्रिकेट के साथ टैको, Avocado के सलाद के साथ रेश्म के कीड़े और Grasshoppers यानि टिड्डे की चॉकलेट.

Kremena ने कहा कि-

मुझे टिड्डे काफ़ी पसंद हैं, जब उनके पंख और पैर तोड़ कर अलग कर दिया जाते हैं तो उसका स्वाद Shrimp जैसा होता है. मुझे हर तरह के कीड़े पसंद हैं. खाने में पड़े कीड़े, भैंस के कीड़े या रेशम के कीड़े सब पसंद हैं.

इन व्यंजनों के लिए वो न सिर्फ़ यूरोप या थाईलैंड से कीड़े खरीदती हैं. पहले वो अपने पास इन कीड़ों को पालती थीं, लेकिन जब उन्हें यात्रा करनी होती है, तो उनकी देखभाल कोई नहीं कर पाता. इसलिए उन्होंने ये सब बंद कर दिया.

United Nation के हिसाब से कीड़े प्रोटीन, न्यूट्रीशन और पोषण के लिए काफ़ी अच्छे हैं. इससे पर्यावरण को नुकसान भी नहीं होता. Kremena ने बताया कि एक​ किलो गो मांस के मुकाबले, एक किलो झींगुर के लिए आपको 2000 गुना कम पानी, 12 गुना कम खाना और 13 गुना कम ज़मीन चाहिए.

Source- Metro