'सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान हमारा'

मैं एक भारतीय हूं और मुझे एक भारतीय होने पर गर्व है. मुझे ख़ुशी है कि मैं उस देश का हिस्सा हूं, जहां हर किसी को अपनी बात कहने की पूरी आज़ादी है. आज अगर हम आज़ाद भारत का हिस्सा हैं, तो इसका श्रेय देश के क्रांतिकारियों और जवानों को जाता है. यही वजह है कि आज हम स्वत्रंता की 73वीं वर्षगाठ मना रहे हैं. स्वतंत्रता दिवस हो या गणतंत्र दिवस इन दोनों ही मौके पर सम्मान के साथ शहीदों का नमन किया जाता है. इसके अलावा कई वीरों को उनकी वीरता के लिए पुरस्कार भी दिया जाता है.

Source: cdn

ये, तो बात हुई देश के वीरों की. पर हमारी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में भी कई लोग ऐसे हैं, जो सम्मान के हकदार हैं. ये लोग बिना बोले हमारे लिए बहुत कुछ करते हैं, लेकिन उनको कभी कोई सम्मान नहीं दिया जाता है. इस साल एक अवॉर्ड अवॉर्ड इन लोगों के नाम:

1. सुबह-सुबह न्यूज़पेपर पहुंचाने वाले हॉकर्स

Source: thebetterindia

शायद ही कुछ लोग जानते हों कि आंख खुलने से पहले हम तक न्यूज़पेपर पहुंचाने वाले हॉकर्स सुबह 3 बजे उठ कर न्यूज़पेपर लेने जाते हैं. इसके बाद घर-घर न्यूज़पेपर पहुंचाते. शायद ही कभी ऐसा होता होगा कि ये हम तक न पहुंचे, लेकिन अनुभव यही कहता है कि मौसम चाहे कितना ही ख़राब क्यों न हो, पर ये हम तक न्यूज़पेपर पहुंचाने से कभी नहीं चूकते. अगर ये न हो, तो शायद पेपर पढ़ने के शौकीन लोगों को इसके लिए काफ़ी मेहनत करनी पड़ेगी.

2. घर से कूड़ा उठाने वाला

Source: wp

सुबह-सुबह हर रोज़ एक बंदा आता है और हमारे घर का कूड़ा उठा कर ले जाता है, लेकिन शायद ही इन्हें कोई सम्मान की नज़रों से देखता है. यही नहीं, कई घरों में, तो इनके साथ इज्ज़त तक से पेश नहीं आया जाता है. वैसे इनके न होने पर घर की गंदगी ख़ुद उठा कर फ़ेंकनी पड़ेगी, वो भी बदबू के साथ.

3. निस्वार्थ भाव से सेवा करने वाली घर की महिलाएं

Source: framepool

घर की महिला किसी की बहू, किसी की बीवी, किसी की बहन, तो किसी की मां होती है. ये चुपचाप हर रोज़ सुबह उठ कर हमारे लिए नाश्ते से लेकर डिनर तक का इंतज़ाम करती हैं. यहीं नहीं, घर की सारी देख-रेख का ज़िम्मा भी इनके पास ही होता है. इतना सब करने के बावज़ूद महिलाओं से यही कहा जाता है कि तुम सारा दिन करती ही क्या हो. एक दिन के लिए भी ये घर से चली जाएं, तो सारी असलियत पता चल जाती है.

4. सुरक्षा करने वाले गार्ड्स

Source: trutuff

अपनी रातों की नींद गंवा कर ये हमारी सुरक्षा करते हैं. कई बार, तो चोरी-डैकेती की घटनाओं में इनकी जान तक चली जाती है. लेकिन लोग इनके कामों को भूल जाते हैं. अब भी अगर इन्हें सम्मान न मिले, तो इससे ज़्यादा बुरा कुछ नहीं होगा.

5. सबका मल साफ़ करने वाले सफ़ाई कर्मचारी

Source: akm

लोग इन्हें जमादार कह कर भी बुलाते हैं, लेकिन सोचो क्या आप किसी का मल साफ़ कर सकते हैं, शायद नहीं. मज़बूरी में ही सही, लेकिन इन्हें ये काम करना पड़ता है.

6. हमारी देख-रेख करने वाली नर्स

Source: vallamai

हम हॉस्पिटल हो या घर, तबियत ख़राब होने पर नर्स हमारी गंदगी तक उठाती है. दिन हो या रात, मरीज़ को ज़रा सी परेशानी होने पर ये तुरंत हाज़िर रहती हैं.

7. धूप और बारिश में ट्रैफ़िक हटाता पुलिसवाला

Source: hellomumbainews

यूं तो पुलिसवालों को उनकी बहादुरी के लिए कई सम्मान दिये जाते हैं, लेकिन एक सम्मान का अवॉर्ड उन ट्रैफ़िक पुलिसवालों के नाम भी, जो तेज़ धूप और बारिश में जनता की सेवा करते दिखाई देते हैं.

8. घर बनाने वाले लेबर्स

Source: livemint

हम जिसे अपना आशियाना कहते हैं, उसे बनाने का श्रेय दिन-रात मेहनत करने वाले मजदूरों को जाता है. मई-जून की गर्मी हो या दिसंबर और जनवरी की कड़कती ठंड, ये हमारा घर तैयार करने में अपनी पूरी ताकत झोंक देते हैं.

आप में से कई लोग ये सोचते हैं कि ये इन लोगों का पेशा है, लेकिन सोचो क्या पेशा होने के बावज़ूद ये सम्मान के हक़दार नहीं हैं. ये कम पैसों में हमें वो सेवाएं देते हैं, जो शायद हमारे लिए करना नामुकिन है. इसीलिए इस स्वतंत्रता दिवस पर एक सम्मान इन लोगों के नाम!

Source: pinterest

73वें स्वतंत्रता दिवस की आप सभी को Hindi Scoopwhoop की तरफ से शुभकामनाएं 'जय हिंद, जय भारत'