बॉलीवुड अभेनित्री परवीन बॉवी और महेश भट्ट के लव अफ़ेयर के किस्से तो आप सब ने बहुत सुन ही रखे होंगे. इन दोनों के बीच इतनी मोहब्बत थी कि महेश भट्ट ने परवीन बॉवी की याद 'वो लम्हें' फ़िल्म तक बना डाली.

दुनिया में न रहते हुए भी एक बार फिर से परवीन बॉबी का नाम मीडिया की सुर्ख़ियों में है. इस बार परवीन बॉबी का नाम महेश भट्ट नहीं, बल्कि बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता डैनी डेनजोंगपा की वजह से चर्चा में है. अभिनेता डैनी ने परवीन बॉबी को लेकर एक चौंका देने वाला ख़ुलासा किया है. दरअसल, 70 के दशक में चार साल तक डैनी और परवीन बॉबी का अफ़ेयर चला. दोनों के बीच प्यार इस कदर परवान चढ़ा कि दोनों ने एकसाथ रहना शुरु कर दिया. लेकिन इन दोनों का प्यार किसी अंजाम तक नहीं पहुंच पाया. अभिनेता डैनी ने फ़िल्मफे़यर को दिए हुए इंटरव्यू में बताया, 'हम 4 साल तक लिव इन रिलेशनशिप में रहे, लेकिन हमारा रिश्ता लंबा नहीं टिक पाया और हम अलग हो गए. इसके बाद परवीन महेश भट्ट और कबीर बेदी को डेट करने लगीं और मैं किम के साथ रिश्ते में आ गया था.'

Source: thebridalbox

इंटरव्यू में डैनी ने बताया, ब्रेकअप के बाद परवीन अकसर डिनर पर बुलाती रहती थी. पैकअप के बाद मैं फ़िल्म के सेट से किम को पिक करता था और जब घर पहुंचता, तो परवीन बेडरूम में वीसीआर पर मूवी देखती मिलती थीं. मैंने कई बार उसे ऐसा करने को मना किया, लेकिन वो कहती थी कि हमारे बीच कुछ भी नहीं है. हम सिर्फ़ दोस्त हैं. डैनी ने परवीन की इस हरकत का जिक्र महेश भट्ट से करते हुए, उन्हें परवीन बॉबी को समझाने के लिए भी कहा था.

परवीन बॉबी की अजीबो-गरीब हरकत के बारे में ख़ुलासा करते हुए डैनी ने बताया, 'एक बार डिनर के दौरान, परवीन के घर में रखा शंख उन्हें बेहद पसंद है और उन्होंने उसे बज़ाना शुरु कर दिया. शंख की आवाज़ सुनते ही परवीन बुरी तरह से डर गई.' इस दौरान महेश भट्ट ने डैनी को बताया कि परवीन अकेली रहने लगी हैं और किसी भी वक़्त किसी भी चीज़ से डर जाती हैं.

डॉक्टरों को दिखाने के कुछ दिन बाद पता चला कि उन्हें सिज़ोफ्रे़निया नाम की मानसिक बीमारी है. इस बीमारी से परवीन के दिल में ये डर बैठ गया था कि कोई उन्हें मारना चाहता है. इसी बीच परवीन बॉबी ने अमिताभ बच्चन के ऊपर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा था कि अमिताभ बच्चन उन्हें झूमकर गिराकर मारना चाहते हैं. इतना ही नहीं परवीन बॉबी ने यहां तक कह डाला था कि इस साज़िश में अमिताभ के साथ फ़िल्म डॉयरेक्टर रमेश सिप्पी भी शामिल हैं.

Source: thesocialmonk

इंटरव्यू में डैनी बताते हैं, एक दिन परवीन ने अमिताभ का एक इंटरव्यू पढ़ा, जिसमें अमिताभ ने डैनी को उनका अच्छा दोस्त बताया था. इसके बाद जब वो परवीन से मिलने गए, तो परवीन ने उन्हें अमिताभ का एजेंट बताते हुए उनसे मिलने से इंकार कर दिया.

डैनी बताते हैं कि अपने अंतिम दिनों में परवीन बॉबी बिल्कुल अकेली थी, जिस अदाकारा के लिए फ़िल्ममेकर्स की लाइन लगी रहती थी, जब उसकी मौत हुई, तो उनमें से कोई दिखाई नहीं दिया.