ख़ुशी का आलम जब सिर चढ़ का बोलता है, तो गले से शराब पानी की तरह उतरती है. वहीं जब ग़म का साया छाता है, तब तन्हाइयों में खंबे-के-खंबे निपट जाते हैं. बात इतनी सी है जनाब कि ग़म हो या ख़ुशी, ज़्यादा शराब पीने के बाद जो आलम होता है, वो खुद के लिए शर्मनाक और दूसरों के लिए मज़ेदार बन जाता है. इन तस्वीरों में आप देखेंगे कि जब ज़्यादा हो जाती है, तो कैसे शामत आती है.

1. टशन है भाई का! पुलिस के पकड़ने के बाद भी बोतल नहीं छूटी

2. यार, वहां गेट नहीं है!

3. इसलिए कहते हैं कि पीने से पहले कुछ खा लेना चाहिए

4. हम साथ-साथ (ड्रंक) हैं

5. मिलिए लेडी दारा सिंह से!

6. करना क्या चाह रही हो मैडम!?

7. इसे कहते हैं कलाकार की क्रिएटिविटी

8. ये तो उड़ने से पहले ही 'हाई' है

9. पी के उड़ चला...

10. ये तो कोई रिकॉर्ड होना चाहिए

11. जब आपके बिस्तर पर कोई और सो जाए

12. ये करने में भी मज़ा तो आता होगा

13. गुड मॉर्निंग! नहीं? ओके

14. दीवारतोड़ पार्टी हो गयी ये तो!

15. प्रकृति की गोद में... टल्ली

16. इसको लकड़ी उठा कर लाने को कहा था... लड़की ले आया!

17. इसे कहते हैं बेवड़ासान

18. डब्बे में धब्बा

19. जब समझ न आये कि बिस्तर पर सोएं या सोफे पर

20. सही जगह घुसे हो दोस्त

21. कृपया इस स्टंट को घर या बार में न दोहराएं

22. जियेंगे साथ, पियेंगे साथ

23. ध्यान से उठना भाई!

24. लगता है ये साहब हैंगओवर का इलाज ढूंढ़ रहे हैं

25. उलटी करने का ये मतलब नहीं था मैडम!

इसीलिए ज़िम्मेदारी से पिया करें दोस्तों, नहीं तो एक दिन आपकी तस्वीर भी यहां छप जाएगी!

Source: Acidcow