इंसानियत का कोई पता ठिकाना नहीं है. ज़रूरी नहीं ये शहर की भीड़ में मिले, ये दूर-दराज़ ​के किसी बंजर इलाके में भी पाई भी जा सकती है. इंसानियत की सोच रखने वाले लोग निस्वार्थ सोच के साथ ये दूसरों की भलाई के लिए सोचते हैं, फिर चाहे वो इंसान के लिए हो, प्रकृति के लिए या जानवरों के लिए.

मिलिए Patrick Kilonzo Mwalua उर्फ़ Water Man से. Patrick हर रोज़ केन्या के Tsavo West National Park में जंगली जानवरों को पानी पिलाते हैं. ये इलाका सूखे की मार झेल रहा है और यहां के जानवरों के पास पीने का पानी भी नहीं है. Patrick हर रोज़ यहां पानी का टैंकर लाते हैं और 3,000 गैलन पानी से इलाके के गड्ढे भर देते हैं. उसके बाद जो नज़ारा होता है, वो देखने लायक होता है.

Patrick कहते हैं कि अब इस इलाके में पहले जैसी बारिश नहीं होती, अगर वो ये नहीं करेंगे, तो ये जानवर मर जाएंगे.

हज़ारों जानवर आज Patrick की नेकी से ज़िन्दा है.

जानवरों की आंखों में उस समय खुशी देखने लायक होती है, जब हर रोज़ पानी का टैंकर आता है.

कुछ दिन पहले जब 500 भैंसें पानी के गड्ढे के पास Patrick का इंतज़ार कर रही थीं. उन्हें दूर से ही पानी की सुगंध आ गई थी.

Patrick की नेकी देख, कुछ अमेरिकी महिलाएं उनकी आ​र्थिक मदद के लिए GoFundMe नाम से इंटरनेट पर Fundraising Campaign चला रही हैं.

कहा था न इंसानियत का कोई ठिकाना नहीं होता!