भारत और पाकिस्तान के रिश्ते हमेशा से ही ख़टास भरे रहे हैं और राजनैतिक गलियारों में भारत और पाकिस्तान का रिश्ता एक मुद्दा रहा है. मगर इन दोनों देशों में कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो इन सब बातों इतर भाई-चारे को क़ायम करने की कोशिशों में लगे रहते हैं और एक मिसाल क़ायम करते हैं. अकसर ऐसी ख़बरें सोशल मीडिया के ज़रिये हम तक पहुंचती रहती हैं. ऐसी ही एक पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें एक पाकिस्तानी UBER कैब ड्राइवर सोशल मीडिया पर सबका दिल जीत रहा है.

दरअसल, एक हिन्दुस्तानी सोशल मीडिया पर पाकिस्तान में इस कैब ड्राइवर के साथ हुए अपने अनुभव को शेयर किया जिसके बाद ये कैबी हर तरफ से तारीफ़ें बटोर रहा है. सोशल मीडिया हो या फ़ेसबुक हर जगह यूज़र्स इसकी ही बात कर रहे हैं. ऐसा हो भी क्यों न, इस ड्राइवर ने भारत और पाकिस्तान के बीच चल रही द्वेष भावना के बीच प्यार और सम्मान की बात जो की है.

दरअसल, भारत के प्रभदीप सिंह अपने दोस्त की शादी में शरीक़ होने के लिए पाकिस्तान के लाहौर गए हुए थे. वहां उन्होंने UBER की सर्विस ली और UBER के लिए काम करने वाले अहमद नाम के इस कैब ड्राइवर ने अपनी कार में बैठे प्रभदीप से किराया लेने से मना कर दिया.

Twitter पर प्रभदीप ने एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा कि पाकिस्तान में UBER कैब लेने का उनका एक्सपीरियंस बहुत ही अच्छा रहा. उन्होंने अपने Tweet में लिखा,

अहमद ने मुझे वाघा बॉर्डर छोड़ा. अहमद ने पैसे लेने से भी मना कर दिया. ऐसा उसने इसलिए किया क्योंकि मैं इंडियन था और उनका गेस्ट था. जब तक मैंने बॉर्डर क्रॉस नहीं किया तब तक अहमद वहीं खड़ा था. हमने प्यार और भाई-चारे की कई बातें की. इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि मैंने पांच महाद्वीपों में UBER की सर्विसेज़ ली हैं लेकिन बेस्‍ट एक्‍सपीरियंस मुझे इस हफ़्ते पाकिस्‍तान में हुआ है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रभदीप सिंह हैदराबाद के रहने वाले हैं और एक प्राइवेट एंबुलेंस सर्विस कंपनी के मालिक हैं.

प्रभदीप ने ऐसा करने की अहमद की वजह को भी शेयर करते हुए बताया कि

अहमद के मुताबिक मैं उनके देश में 'एक भारतीय और एक मेहमान हूं', और सिर्फ़ इसी वजह से वो मुझे बॉर्डर तक छोड़ने के लिए भी आए. प्रभदीप सिंह लिखते हैं कि अहमद के व्‍यवहार ने उनके पाकिस्‍तान के इस दौरे को और भी यादगार बना दिया.

प्रभदीप की पोस्ट वायरल होने के बाद इंडिया में भी UBER ने भी ट्वीट को शेयर किया

अब फेसबुक हो या ट्विटर हर जगह लोग अहमद की ख़ूब तारीफ़ कर रहे हैं.

UBER पाकिस्‍तान करेगी अहमद को सम्मानित

अहमद के इस बर्ताव की सराहना करते हुए UBER पाकिस्तान ने निर्णय लिया है एक समारोह में अहमद को भारत और पाकिस्‍तान के बीच सौहार्द बढ़ाने के लिए सम्‍मानित किया जाएगा. इस बात की जानकारी खुद प्रभदीप सिंह ने दी है.

इसके साथ ही प्रभदीप ने कहा कि उन्‍हें लाहौर जाकर ऐसा लग रहा था जैसे वो अपने शहर हैदराबाद में ही हैं. लाहौर के लोग भी भारत जैसे ही हैं, वो बिलकुल वैसे उर्दू और पंजाबी बोलते हैं जैसे भारतीय बोलते हैं, और वैसा ही खाना खाते हैं जैसे हम लोग खाते हैं.

असल मायनों में अहमद और प्रभदीप की ये छोटी सी कहानी भारत और पाकिस्तान के बीच दोस्ती के पुल का काम करती है.