अकसर फ़ेसबुक या कोई और सोशल साइट इस्तेमाल करते हुए आपके सामने ऑनलाइन पेटिशन का लिंक आया होगा. ये पेटिशन किसी बड़े या संवेदनशील मसले के लिए लोगों की सहमति और एकता को दिखाती है. ये कानून में कोई बदलाव की हो सकती है, किसी को न्याय दिलाने के लिए हो सकती है या कोई भी बड़ा कारण जिससे समाज का एक बड़ा वर्ग प्रभावित होता है. लेकिन बीते दिनों CBSE 12वीं क्लास के बच्चों ने एक अनोखी पेटिशन फाइल की है. ये पेटिशन है भौतिक विज्ञान के बोर्ड एक्ज़ाम में आसान मार्किंग की.

Source- Indiatvnews

छात्रों का कहना है कि उन्हें तैयारी का सिर्फ़ एक दिन का समय मिला और उस हिसाब से पेपर काफ़ी कठिन और ट्रिकी था. 12वीं बोर्ड के एक्ज़ाम 5 मार्च को शुरू हुए, जिसमें पहला एक्ज़ाम इंग्लिश का था और उसके बाद 7 मार्च को भौतिक विज्ञान का था. छात्रों ने याचिका के ज़रिए मांग की है कि उनकी मार्किंग थोड़ी आसान हो.

'change.org' पर जारी इस याचिका पर अब तक करीब 7400 छात्र साइन कर चुके हैं.

12वीं की छात्रा अंजली झा ने हिन्दुस्तान टाइम्स से कहा ​कि-

हमें रिवीज़न के लिए सिर्फ़ एक दिन का समय मिला. हमने पूरी रात पढ़ाई की और एक्ज़ाम के टाइम पर हम सन्न रह गए. सेक्शन सी के सारे सवाल ट्रिकी और बड़े थे. हमें ग्रेस मार्क्स चाहिए.

दूसरे छात्र का कहना है कि जो बच्चे JEE कोचिंग कर रहे हैं, उनके लिए ये आसान हो सकता है क्योंकि वो इसकी तैयारी काफ़ी पहले से कर रहे हैैं पर जो स्कूली किताबों और NCERT पर निर्भर हैं उनके लिए ये काफ़ी कठिन था.

जहां छात्र अपना उल्लू सीधा करने में जुटे हैं, वहीं टीचर्स इसे सिरे से खारिज कर रहे हैं.

CBSE कॉर्डिनेटर जावेद आलम का कहना है कि-

हमें सभी एक्ज़ाम की रिपोर्ट मिलती है और हमें इसकी रिपोर्ट कहीं नहीं मिली है. छात्रों ने अच्छे से तैयारी नहीं की होगी, जिसके कारण वो आसान मार्किंग के लिए पेटिशन फ़ाइल कर रहे हैं.

Source- Hindustan Times