कहते हैं कि सपनों की उड़ान पर सवार तो सब होते हैं, लेकिन उसे पूरा करने का हौसला हर किसी में नहीं होता. सपनों को देखना बड़ा आसान होता है, लेकिन उसे पूरा करना सहज नहीं होता. कुछ ऐसे ही हालातों की कहानी है केरल में रहने वाली Sneha Limbgaomkar की.

Orkut पर वो एक लड़के से मिलती है, और उससे शादी कर लेती है. शादी के वक़्त स्नेहा डॉक्ट्रल रिसर्च की पढ़ाई कर रही थी. लेकिन वक़्त ने उनका साथ नहीं दिया और घर की माली हालत बिगड़ने लगी. उन्हें घर का खर्च चलाने में भी समस्या होने लगी.

Source: TOI

उनके पति को खाना बनाने का हुनर आता था, दोनों से फ़ैसला किया कि रात को दोनों पराठें बेचेंगे और सुबह स्नेहा अपनी PhD की पढ़ाई पूरी करेंगी. स्नेहा जिस कॉलेज में पढ़ रही हैं, उसी के बाहर उनके पति परांठे का ठेला लगाते हैं. कॉलेज से निकल कर, वो सीधा अपने पति की मदद करने चली जाती हैं.

Representational Source: sheknows

5 साल की शादी में दोनों ने एक दूसरे के लिए काफ़ी सैक्रिफ़ाइज़ किए हैं. पति प्रेमशंकर ने अपनी CAG की नौकरी छोड़ी और पत्नी की पढ़ाई में मदद करने के लिए परांठों का ठेला लगा लिया. वहीं पत्नी सुबह अपनी पढ़ाई और शाम को पती की मदद करने में देरी नहीं करतीं.

Representational Source: sheknows

कहते हैं कि प्यार में भी पैसे की ज़रूरत होती है, लेकिन स्नेहा और प्रेमशंकर के रिश्ते को देख कर लगता है कि प्यार हो, तो लोग पैसा भी कमा लेते हैं. इस प्यारे जोड़े को ग़ज़बपोस्ट का सलाम.