कहते हैं न कि ढूंढने पर तो भगवान भी मिल जाते हैं, फिर ये लाखों-करोड़ों का खज़ाना क्या चीज़ है! जानते हैं, दुनिया में कई म्यूज़ियम हैं जहां पुरातन काल के अनमोल ख़ज़ाने सुरक्षित रखे हुए हैं. लेकिन इन्हें ढूंढने वाले आप और मेरे जैसे सामान्य लोग ही थे जिनकी किस्मत और मेहनत ने उन्हें करोड़पति बना दिया. आज मॉडर्न टेक्नोलॉजी की वजह से हमारे पास ऐसे यंत्र आ गए हैं जिनसे ख़ज़ानों का ठिकाना पता करना आसान हो गया है, लेकिन इन लोगों ने सिर्फ़ मेटल डिटेक्टर्स की मदद से इन ख़ज़ानों को ढूंढा. तो पढ़ो इनकी कहानी और तैयार हो जाओ, ख़ज़ाने की खोज करने के लिए.

1. खज़ाना: रिंगलमेयर कप
जगह: सैंडविच, केंट
साल: 2001

एक धुंधली सुबह, कीचड़ में कुछ ढूंढते हुए, ईस्ट केंट में रहने वाले क्लिफ़ ब्रैडशॉ ने अपने मेटल डिटेक्टर की आवाज़ सुनी. वहां खुदाई करने पर उन्हें एक दुर्लभ और उत्कृष्ट सोने का प्याला मिला, जिसे अब रिंगलमेयर कप के नाम से जाना जाता है. इस प्रकार का ये दुनिया में दूसरा ही प्याला है. बताया जाता है कि ये प्याला कांस्य-युग (2300 BC) का है.

इस कप को ब्रिटिश म्यूज़ियम ने क्लिफ़ ब्रैडशॉ से 2,70,000 पाउंड्स में खरीदा था. मुझे तो लगता था कि कीचड़ में सिर्फ़ कमल ही खिलता है, यहां तो खज़ाना मिल गया.

2. खज़ाना: फिशपूल होर्ड
जगह: रेवन्सहेड, नॉटिंघमशायर
साल: 1966

1966 में, एक बिल्डिंग बनाने के लिए खुदाई करने पर मज़दूरों को मध्यकालीन युग के सिक्कों का खज़ाना मिला. ब्रिटेन के इतिहास का ये सबसे बड़ा खज़ाना था. 15वीं शताब्दी के इस ख़ज़ाने में 1,237 सोने के सिक्के, 4 अंगूठियां, 4 गहने और 2 सोने की चेन थीं.

अनुमान ये था कि युद्ध से भागते वक़्त किसी ने इस ख़ज़ाने को यहां छुपा दिया था. यहां मिले गहने बहुत ही सुन्दर और अनमोल हैं, इसीलिए ब्रिटिश म्यूज़ियम ने इस ख़ज़ाने को 3,00,000 पाउंड्स में खरीद लिया.

3. खज़ाना: रोमन कॉइन होर्ड
जगह: फ्रॉम, सॉमरसेट
साल: 2010

डेव क्रिस्प फ्रॉम शहर के एक खेत में कुछ ढूंढ रहे थे. उन्हें उम्मीद थी कि शायद एक रोमन सिक्का मिल जाए लेकिन कुछ घंटों बाद ही उनके मेटल डिटेक्टर से आवाज़ आने लगी. पता चला कि रोमन युग के चांदी के सिक्कों का अब तक का सबसे बड़ा खज़ाना उनके हाथ लग गया था.

3 दिन तक चली खुदाई में 52,000 रोमन सिक्के मिले जिसकी कीमत करीब 5,00,000 पाउंड्स थी. लेकिन दुर्भाग्य से ये सारा खज़ाना राजकोष में चला गया.

4. खज़ाना: सिल्वरडेल होर्ड
जगह: हैरोगेट, नार्थ यॉर्कशायर
साल: 2007

डेविड और उसका बेटा एंड्रू नार्थ यॉर्कशायर के एक खेत में कुछ खोज रहे थे कि तभी लोहे के टुकड़ों के बीच उन्हें चांदी का एक बाउल मिला जिस पर बहुत सुन्दर नक्काशी थी. इसके बाद खुदाई करने पर उन्हें वहां से 617 चांदी के सिक्के और 65 चांदी के आइटम्स मिले.

बताया जाता है कि ये सारी चीज़ें 900 AD में फ्रांस या जर्मनी में बनी थीं. इस ख़ज़ाने को यॉर्कशायर म्यूज़ियम को बेच दिया गया था. डेविड और खेत के मालिक को 1 मिलियन पाउंड्स की भारी रकम मिल गयी.

5. खज़ाना: हॉक्सन होर्ड
जगह: हॉक्सन, सफ़िक
साल: 1992

अब तक मिले सारे ख़ज़ाने मेटल डिटेक्टर की मदद से मिले हैं, लेकिन हॉक्सन का ये खज़ाना तक मिला जब कुछ आदमी अपना हथौड़ा ढूंढने की कोशिश कर रहे थे. पीटर व्हॉट्लिंग ने अपने दोस्त एरिक को वो हथौड़ा खोजने के लिए बुलाया लेकिन खुदाई करते वक़्त उन्हें कई हीरे-जवाहरात, चांदी के चम्मच और सोने गहने मिले.

पूरी तरह खुदाई करने पर वहां से 15,000 रोमन सिक्के और 200 दूसरी दुर्लभ चीज़ें मिलीं. इस ख़ज़ाने के लिए एरिक को 1.75 मिलियन पाउंड्स की राशि मिली जो उसने अपने दोस्त पीटर के साथ बांटी. इतनी रकम किसी खज़ाना ढूंढने वाले को पहली बार मिली है.

6. खज़ाना: किंग्स रैनसम
जगह: लिचफील्ड, स्टैफ़ोर्डशायर
साल: 2009

लिचफील्ड के प्राचीन शहर में कई ख़ज़ाने दफ़न हैं, लेकिन इस छोटे से आइलैंड पर इतना बड़ा खज़ाना मिलेगा, ये किसी ने नहीं सोचा था. एक किसान के खेत में खुदाई करते वक़्त टेरी हर्बर्ट को 5 किलो सोने और 1.3 किलो चांदी के ज़ेवरात मिले.

ये ज़ेवर एंग्लो-सैक्सन आर्ट के बहुत ही नायब नमूने थे. इस ख़ज़ाने की कीमत करीब 3.26 मिलियन पाउंड्स थी. ये खज़ाना अब ब्रिटिश म्यूज़ियम में रखा हुआ है.

इन सब घटनाओं से एक बात सिद्ध होती है कि अगर किस्मत हो बुलंद तो कूड़े में भी करोड़ों मिल सकते हैं. तो जनाब, ज़रा एक मेटल डिटेक्टर खरीदिए और अपने खेतों में खोजबीन चालू कर दीजिये. क्या पता, आप भी एक दिन ऐसे एक आर्टिकल में फीचर हो जाएं.


This article is curated from moneysupermarket