राजनीतिक सुगबुगाहट उत्तर प्रदेश से ज़्यादा पश्चिम बंगाल में देखने को मिल रही है. यहां टीएमसी कार्यकर्ताओं पूरे राज्य में भाजपा के कार्यालयों पर हमला कर रहे हैं. मामला बस इतना था कि रोज़ वैली चिटफंड घोटाले में तृणमूल कांग्रेस सांसद सुदीप बंद्योपाध्याय को गिरफ़्तार कर लिया गया था. इस कारण टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने आंदोलन छेड़ दिया है.

Source: Network 18
इस वजह से कोलकाता में केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो के घर पर टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा हमला भी किया गया है. जानकारी के लिए बता दूं कि यहां उनके माता-पिता रहते हैं.

इस बात की जानकारी बाबुल सुप्रियो ने ट्वीट करते हुए दी.

ट्वीट में उन्होंने कहा कि टीएमसी गुंडो ने मेरे अपार्टमेंट के गेट को तोड़ने की कोशिश की. यहां मेरे माता-पिता रहते हैं. नारेबाजी हो रही है. ये शर्म की बात है. इस घटना के लिए उन्होंने पुलिस को भी जिम्मेदार ठहराया.

सीबीआई ने मंगलवार को सुदीप को गिरफ्तार किया था. सांसद की गिरफ़्तारी के ख़िलाफ़ टीएमसी, बीजेपी और मोदी सरकार के ख़िलाफ़ जगह-जगह धरना प्रदर्शन कर रही है. वहीं ममता बनर्जी कहती हैं कि हम सरकार के ख़िलाफ़ युद्ध करेंगे और जीत भी हमारी ही होगी. लेकिन इस तरह का युद्ध कहां तक जायज़ है?

Source: Network 18