मशहूर टीवी कलाकार रीता भादुड़ी का मंगलवार सुबह निधन हो गया. वह 62 साल की थीं. पिछले 10 दिनों से उनके किडनी का इलाज चल रहा था, लंबे समय से उन्हें किडनी में शिकायत थी.

Image Source: india-forums

रीता भादुड़ी क आखरी टीवी शो, स्टार भारत की 'निमकी मुखिया' था, इसमें वो 'इमरती देवी' का किरदार निभा रही थी. उनके निधन की ख़बर से टीवी इंडस्ट्री में शोक का माहौल बन गया है.

रीता भादुड़ी के करीबी और फ़िल्म 'राज़ी' के अभिनेता शिशिर शर्मा ने उनकी मृत्यु की ख़बर फेसबुक पर शेयर की. शोक जताते हुए उन्होंने लिखा,'हमें आपको यह सूचित करते हुए गहरा अफ़सोस है कि रीता भादुड़ी अपनी अंतिम यात्रा के लिए रवाना हो चुकी हैं. उनका अंतिम संस्कार 17 जुलाई, मगंलवार को दोपहर 12 बजे शमशान ग्राउंड, पारसी वाडा रोड, चकला, अंधेरी ईस्ट में किया जाएगा. '

रीता भादुड़ी टीवी में काम करने से पहले फ़िल्मों से अपने करियर की शुरुआत कर चुकी थी, 1970 से 1990 के बीच उन्होंने कई सहायक अभिनेत्रियों के किरदार निभाए. 'सावन को आने दो' और 'राजा' उनमें से प्रमुख थी. सहायक अभिनेत्री के लिए राती भादुड़ी को फ़िल्म फ़ेयर अवॉर्ड भी दिया गया है.

Image Source: indiatvnews

उनका जन्म 4 नवंबर, 1955 में लखनऊ शहर में हुआ था. गुजराती परिवार से न होते हुए भी उनका लगाव गुजराती फ़िल्मों से ज़्यादा था, गुजराती फ़िल्मों में उनकी पहचान एक सफ़ल अभिनेत्री के तौर पर है. उन्होंने लगभग 71 हिन्दी फ़िल्मों के लिए भी काम किया था.

'एक महल हो सपनों का', 'अमानत', 'हम सब बाराती', 'हसरतें' उनकी हिट टीवी सिरियल्स थे.

Source: abpnews