नवंबर 2017 में हरियाणा के कृषि मंत्री, ओम प्रकाश धनकर ने वहां की महिला बॉक्सर्स को प्रोत्साहित करने के लिए एक अनोखा इनाम ​दिया था. मंत्री जी ने विश्व युवा महिला मुक्केबाज़ी चैम्पियनशिप में हरियाणा की 6 विजेताओं को एक-एक गाय इनाम में देने की घोषणा की. गुवाहाटी में आयोजित हुई इस चैम्पियनशिप में चार बॉक्सर्स ने स्वर्ण पदक और दो ने कांस्य पदक जीता था. मंत्री जी का ये इनाम 6 में से 3 बॉक्सर्स को रास नहीं आया.

Source- Occupyforanimals

हाल ही में बॉक्सर नीतू के परिवार ने अपनी गाय ये कहते हुए वापस कर दी कि वो दूध नहीं देती. वहीं दूसरी ओर बॉक्सर ज्योति के परिवार ने बताया कि गाय काफ़ी गुस्सैल है और आसानी से दूध भी नहीं देती. ज्योति के भाई धरमबीर गुलिआ ने HT से बताया कि-

जब उनकी मम्मी गाय का दूध निकाल रही थीं, तब गाय ने उन्हें लात मार दी जिस वजह से उनके हाथ में फ्रैक्चर हो गया. फिर हमने पड़सी को मदद के लिए बुलाया तो उसने उस पर भी हमला किया.
Source- Newindianexpress

जहां दो खिलाड़ियों ने गाय वापस कर दी, वहीं साक्षी ने घर में कम जगह का हवाला देते हुए ये इनाम लिया ही नहीं था. मंत्री जी का कहना था कि अगर गाय इनाम में देते हैं तो खिलाड़ी उसका दूध पीकर और अच्छा खेलेंगी.

हर गाय माता विनम्र नहीं होती, गुस्सा उन्हें भी आता है.

Source- Outlook