प्यार अपने आप में एक ऐसा लफ्ज़ है, जिसके साथ भावनायें और एहसास जुड़े हुए हैं. ये एक ऐसा एहसास है, जिसमें इंसान को दुनिया पहले से ज़्यादा ख़ूबसूरत लगने लगती है. ऐसा लगता है मानो हवाओं में हर तरफ़ बस इश्क़ ही इश्क़ ही बह रहा हो, पर जैसे ही आप किसी से पूछते हैं कि दोस्त ज़रा प्यार के बारे में बताना कि ये कितनी तरह का होता है? तो लोग आपको पागल समझने लगते हैं. पर दोस्त आपका सवाल पूछना को पागलपन नहीं है. ये बात आप भी जानते हैं और हम भी, इसीलिए आज हम आपको प्यार के टाइप्स बता रहे हैं.

रोमांटिक वाला लव

ये वाला लव प्राचीन ग्रीस के प्रेम के देवता 'Eros' को समर्पित है. इसके बारे में कहा जाता है कि ये सबसे ख़तरनाक किस्म का लव होता है. इतना ख़तरनाक कि ये मुसीबतों को दावत तक दे देता है.

वहीं इसकी एक दूसरी परिभाषा भी है, जो कहती है कि ये प्यार में पड़ने के बाद पहला एहसास है. इसमें आप एक-दूसरे के बिना रहने के बारे में सोच भी नहीं सकते.

Source: dailycollection

लंबे समय तक चलने वाला लव

तमाम तरह की मुसीबतों को झेलने के बावजूद जो प्यार बना रहता है ये वाला लव उसी टाइप का है. इस तरह के प्यार का अंजाम शादी पर जा कर खत्म होता है. इसे आप सच्चा प्यार भी कह सकते हैं. प्राचीन ग्रीक में इस तरह के प्यार को Prague का नाम दिया गया था.

Source: judithe

Playful Love

इस तरह के प्यार को आप ऐसे समझ सकते हैं कि ये अभी अपने बचपन की स्टेज पर होता है, जिसकी शुरुआत फ़्लर्ट से होती है. ग्रीक वाले इसे Ludus के नाम से पुकारते थे.

इसमें आपको लगता है कि सारी दुनिया रंगीन हो गई है. हर कोई बहुत खुश है और इस ख़ुशी में आप दोनों भी बहुत खुश होते हैं.

Source: pk

प्रेमपूर्ण प्यार

इस तरह का प्यार आपको आपके दोस्त से होता है, पर इस दोस्ती को आप इस नाम से आगे ले जाना चाहते हैं. इसमें कोई शारीरिक आकर्षण नहीं होता. शायद इसी वजह से ग्रीक के लोग इसे Philia कहते थे. इस तरह का एहसास बचपन में भाई-बहन के साथ भी होता है.

Source: telegraph

Empty Love

प्यार की इस किस्म के बारे में इतना कहना ही काफ़ी है कि ये प्यार की वो स्टेज है, जिसमें जोड़ा अपनी रिलेशनशिप से बहुत दुखी होता है. ज़्यादातर ऐसा शादियों के बाद देखा जाता है. इसमें कपल सिर्फ़ इसलिए रिश्ते को निभा रहा होता है, क्योंकि उसे पार्टनर से ज़्यादा अपने बच्चों की चिंता होती है.

Source: puke

जुनून वाला इश्क़

इस तरह की मोहब्बत में इंसान को किसी भी चीज़ का ख़्याल नहीं रहता. इसमें आप पागलपन की हद तक अपने प्रेमी को चाहने लगते हैं. प्राचीन ग्रीस के लोगों ने शायद इसी वजह से इसे Mania का नाम दिया था.

इस तरह के प्यार में व्यक्ति चाहता है कि वो जिससे प्यार करता है, वो भी उसे उतना ही प्यार करे. ऐसे ही रिलेशनशिप में जलन और Possessive जैसी चीज़ें पैदा होती हैं.

Source: lesle

खुद से प्यार

ये कहा जाता है कि किसी और से प्यार करने से पहले आपको खुद से प्यार करना आना चाहिए. इस बात से प्राचीन ग्रीक के लोग भी वाकिफ़ थे इसी वजह से उन्होंने इसे Philautia का नाम दिया.

इस तरह के इश्क़ को कुछ ऐसे समझिये कि आप जैसे हैं उसी से मोहब्बत करते हैं. ये उस फिलॉसोफ़ी पर आधारित है, जो कहती है कि आप वही दे सकते हैं, जो आपके पास है.

Source: hufpost

Selfless Love

इस तरह के प्यार में आप किसी के लिए कोई द्वेष नहीं रखते और हर किसी से मोहब्बत करते हैं. ग्रीक लोग इस तरह की मोहब्बत को सबसे ऊंचा मानते थे, जिसकी वजह से उन्होंने इसका नाम Agape रखा था.

ये प्यार दायरों के बंधन में नहीं बंधा होता, इसकी कोई सरहद नहीं होती. बौद्ध धर्म में इसे 'यूनिवर्सल लव' कहा गया है. इस तरह के प्रेम में सिर्फ़ शांति और ख़ुशी होती है.

Source: fairry

एकतरफ़ा प्यार

इस प्यार में सिवाए दर्द के कुछ नहीं होता. शायद इसलिए भी ग्रीक लोगों ने इसे परिभाषित नहीं किया. इसमें दूसरे को बताये बिना मोहब्बत परवान चढ़ती रहती है.

Source: shayari

स्वार्थी प्यार

ये वो प्यार है, जिसे एकतरफ़े प्यार से भी ज़्यादा ख़तरनाक माना जाता है. इस तरह के प्यार को 'स्मार्ट लव' का नाम भी दिया गया है, क्योंकि रिलेशनशिप में भी आप अपने स्वार्थ को तलाशते हैं.

ये कहना गलत नहीं होगा कि इस तरह का प्यार ही प्रेम को बदनाम करता है. इसलिए ग्रीक लोग भी इसे कोई नाम दे कर उस शब्द को बदनाम नहीं करना चाहते थे.

Source: power

Source: listovative