अगर फेसबुक की तुलना किसी देश से की जाए, तो गलत नहीं होगा. फेसबुक पर भी आपको कई देशों के अलग-अलग भाषाएं बोलने वाले, अलग-अलग धर्मों के लोग मिल जायेंगे. फेसबुक आज के ज़माने में युवाओं के लिए टशन और स्वैग दिखाने का नया प्लेटफ़ॉर्म बन गया है. 10 साल के बच्चे से लेकर 60 साल के वृद्ध तक, आपको यहां हर तरह के लोग देखने को मिल जायेंगे. गली के फेरी वाले से लेकर मंदिर के पुजारी तक और समोसे बेचने वालों से लेकर बड़े उद्योगपति हर वैरायटी के लोग यहां उपलब्ध हैं. फेसबुक अब बस टाइम पास करने का साधन ही नहीं, बल्कि कमाई का भी ज़रिया बन गया है. पर क्या कभी आपने गौर करने की कोशिश की है कि फेसबुक पर कितने तरह के लोगों से हर रोज़ आपका सामना होता है.

अगर आपने फेसबुक वासियों पर कुछ ज़्यादा ध्यान नहीं दिया, तो हम उन सबसे आपका परिचय करा देते हैं.

1. अपना Post लाइक और कमेंट करने वाले

Source: QuickMeme

हर दस में से आठ लोग ऐसे होते हैं, जो खुद का लिखा कोई Status या अपनी कोई फ़ोटो लाइक करते हैं. इसमें कोई बुराई नहीं है, पर जो आप किसी और को दिखाने के लिए या पढ़ाने के लिए लिख रहे हैं या अपलोड कर रहे हैं, उसे ख़ुद ही लाइक करने का क्या फ़ायदा.

2. अजीबोगरीब नाम वाले लोग

इन लोगों को पहचानना ज़्यादा कठिन नहीं होता, क्योंकि इनके नाम के आगे आपको Risky, Attitude Killer, Heart Breaker और Angel Princess जैसे प्रभावशाली Prefixs देखने को मिल जाते हैं. इनके नाम के साथ ही साथ इनकी DP और Status भी बड़े कातिलाना होते हैं. हां, कुछ इनमें भी अलग प्रवृति के होते हैं, जिनका नाम हम और आप तो क्या Zuckerberg नही नहीं पढ़ सकता.

3. लड़कियों की फ़ोटो पर Add Me लिखने वाले लोग

ये वो लोग होते हैं, जो आजीवन Single ही रहते आये हैं. इन्हें अगर कोई लड़की दिख गई, तो तुरंत शादी और बच्चों का सपना सजा लेते हैं. इस काम की शुरुआत होती है, लड़कियों की Wall पर Add Me लिखने से. अगर ये आपके फ्रेंड्सलिस्ट में हैं, तो सबसे पहले आप अपने फ्रेंड्सलिस्ट को हाईड कीजिये, क्योंकि ऐसे लोग आपकी फ्रेंड्सलिस्ट में मौजूद हर महिला को ये शुभ सन्देश भेज चुके होंगे.

4. एक तरफ़ा आशिक़

ये बेचारा फेसबुक पर पूरी दुनिया को अपना दर्द दिखाने के लिए ही आता है. हर फ़ोटो अपलोड करने के बाद जब तक एक ख़तरनाक दर्दभरी शायरी न पेल दें, तब तक इनकी रूह को आराम नहीं आता. इनकी हर पोस्ट में इनकी अधूरी मोहब्बत का नाम Code Word में देखने को मिल जाता है, जैसे इनकी महबूबा का नाम रानी हो, तो इनके पोस्ट के अंत में लिखा होगा #R, या फिर दिल बनाकर रानी का अधूरा नाम लिखा होगा.

5. भर-भर के ज्ञान देने वाले ज्ञानी लोग

ये लोग फेसबुक के अल्बर्ट आइन्स्टीन होते हैं. इनके पास हर मुद्दे की बाल्टी-भर के जानकारी होती है. आपको बस करना क्या है कि इनसे पोस्ट पर कुछ तार्किक बातें कर दीजिये, फिर देखिये कैसे ये एक आदमी आपको दुनिया भर का ज्ञान देने चला आता है. सरकार क्या सही कर रही है और क्या गलत, दुनिया में क्या हो रहा है, जो नहीं होना चाहिए था, सबकी जानकारी ये फेसबुक पर बैठे-बैठे ही दे देता है.

6. कमेंट में बतियाने वाले लोग

Source: Meme

ये लोग बड़े Irritating होते हैं. इनको दरअसल पता ही नहीं होता कि फेसबुक ने Personal बातें बतियाने के लिए Inbox की सुविधा दी है. पहले ये आपकी किसी पोस्ट पर कमेंट करेंगे और फिर जब इनका कोई दोस्त भी वहां कमेंट करता है, तो दोनों अपना सुख-दुःख वहां बतियाने लगेंगे. यहां तक कि ये लोग अपनी निजी बातें भी यहीं करनी शुरू कर देते हैं.

7. किसी पोस्ट पर लम्बा सा Ad चिपका देने वाले लोग

ये नया चलन है, पर है बड़ा Irritating. कुछ लोगों की एक जमात है, जो किसी भी पोस्ट या फ़ोटो पर जाकर 'डिजिटल इंडिया का या कोई घर बैठें कमायें' वाला दो पेजों का Ad चिपका देते हैं. हालांकि, ये फ्रेंडज़ोन लड़कों की तरह सबसे ज़्यादा Ignore किये जाते हैं, पर कुछ Ads ऐसे होते हैं, जिन्हें Ignore कर पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन होता है. अब आप ही बताइए कि जब आपने कोई अच्छी सी फ़ोटो अपलोड की है और कोई आकर वहां बाबा बंगाली का गुप्त रोगों का शर्तिया इलाज़ वाला Ad चिपका जाए, तो कैसा लगेगा.

8. सर्टिफिकेट देने वाले लोग

ये वो लोग होते हैं, जो दुनिया के हर तरह के सर्टिफिकेट बांटने का ठेका लिए फिरते हैं. अगर लड़कियां छोटे कपड़ों में फ़ोटो डालती हैं, तो ये उन्हें करैक्टरलेस का सर्टिफिकेट दे देंगे. किसी ने हिंदूवादी नेताओं की बुराई की, तो उन्हें पाकिस्तानी एजेंट और देशद्रोही होने का सर्टिफिकेट दे देंगे. किसी लड़के ने अपनी प्रेमिका के साथ कोई फ़ोटो अपलोड की, तो उसे संस्कृति ख़राब करने वालों में शामिल होने का सर्टिफिकेट दे देंगे.

अब तो आप इन सब महानुभावों को पहचान ही गये होंगे, अब ज़रा गौर कीजियेगा इन लोगों की एक्टिविटी पर. वाकई इन लोगों को देख कर Mark Zuckerberg को भी अफ़सोस होता होगा कि आखिर उसने फेसबुक क्यों बनाया. अगर आपके कुछ दोस्त भी इन्हीं लोगों की श्रेणी में आते हैं, तो आर्टिकल को शेयर करें और उन्हें कमेंट बॉक्स में Tag करें.