पुरातत्व विभाग और इसके अधिकारियों को अकसर धूल और धूप में न जाने क्या खोजते रहते हैं. मिट्टी के भीतर इतिहास की तलाश में जुटे ये लोग कई बार कुछ ऐसी चीज़ों से धूल हटा देते हैं, जिनकी कल्पना भी कर पाना मुश्किल है. हमारे आस-पास कई ऐसी चीज़ें हैं, जो इन्हीं की मेहनत की निशानी हैं. लेकिन कई ऐसी भी चीजें पुरातत्व विभाग द्वारा दुनिया में खोजी गई हैं, जिनके पीछे की कहानी आज भी अनसुलझी है.

1. Teotihuacan, the Real Temple of Doom

मेक्सिको शहर के पास बने इस पौराणिक मंदिर को देखने दुनियाभर से लोग आते हैं. लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि इस मंदिर का Teotihuacan नाम असली नहीं है. ख़ास बात ये है कि इसका इतिहास भी पूरी तरह से साफ़ नहीं है. ये कब बना, कैसे बना, इस विशाल डिज़ाइन को किसने बनवाया, इसके बारे में ख़ुद पुरातत्व विभाग भी नहीं जानता. करीब 500 साल पहले ही ये इमारत लोगों के सामने आई. न तो इसके बारे में कही लिखित जानकारी मिली और न ही दंत कथाओं में इसका कोई ज़िक्र था. ये मंदिर आज भी पुरातत्व विभाग के लिए एक अनसुलझी पहली बन कर खड़ी है. अद्भुत बात ये है कि इस पूरी जगह को किसी शहर की तरह बनाया गया है. इसका डिज़ाइन इतना बेहतरीन है कि इसकी तुल्लना पुरातत्व विभाग अमेरीका के शहर New York से करता है और इसी कारण ये हमारी इस लिस्ट में पहले स्थान पर है.

2. The Works of the Old Men

इस जगह को आप आसमान की ऊंचाई से देख सकते हैं. ज़मीन पर बनी ये अजीब आकृतियां कई सवाल खड़े करती हैं. लेकि आज-तक जवाब एक का भी नहीं मिला है. सऊदी के रेगिस्तान में सीरिया की तरफ़ बढ़ते वक़्त रेत के कणों के बीच आपको ये डिज़ाइन्स देखने को मिल जाएंगे. इन आकृतियों के बारे में लोगों को भी कोई जानकारी नहीं है. कथाओं की मानें, तो ये एक बूढ़े शख़्स द्वारा बनाया गया है. इसी कारण इन आकृतियों को The Works of the Old Men कहा जाने लगा. पुरातत्व विभाग इनको 2000 साल पुराना बताता है. लेकिन पुख़्ता तौर पर वो भी कुछ नहीं बोलते. इस कारण हमने इस जगह को अपनी लिस्ट में दूसरा स्थान दिया है.

3. The Giant Rock Monument Under the Sea of Galilee

भारत से लंका तक के राम सेतु के बारे में तो हम सब को पता है. लेकिन क्या आपने Giant Rock Monument Under the Sea के बारे में सुना है? Galilee के पास समुद्र में इज़राइल के पुरातत्व विभाग के लोग किसी चीज़ की तलाश कर रहे थे. साल था 2003. अचानक उनकी खोज़ समुद्र में खड़े एक पहाड़ पर जा रुकी. पहली नज़र में किसी टापू से दिखने वाले इस पहाड़ को जब पास से देखा गया तो दुनियाभर के पुरातत्विदों की आंखें खुली रह गईं. दरअसल ये पहाड़ छोटे-छोटे पत्थरों को जोड़ कर बनाया गया था. इसे किसने, क्यों और कब बनाया इसकी जानकारी नहीं मिली. इन सवालों के जवाब आज भी खोजे जा रहे हैं. जब तक इन सावलों के जवाब नहीं मिलते, ये अजूबा हमारी लिस्ट में तीसरे स्थान पर रहेगा.

4. Nan Madol

Temwen द्वीप के पास Nan Madol किसी डरावनी फ़िल्म का सेट लगेगा. लेकिन जिस तरह से इस शहर को बनाया गया उसे देख कोई भी चौंक सकता है. किसी शानदार आर्किटेक्ट द्वारा डिज़ाइन किया गया, Nan Madol दुनिया के किसी भी शहर का मुकाबले कर सकता है. लेकिन इसकी कोई पुख़्ता जानकारी नहीं कि इसे किस काल में बनया गया. पुरातत्व विभाग ने इसकी जांच के लिए कई कदम उठाए, लेकिन सारे प्रयास विफ़ल रहे. विफ़ल प्रयासों की संख्या इतनी ज़्यादा है कि हमें इस जगह को अपनी लिस्ट में चौथा स्थान देना अनिवार्य हो गया.

5. Goseck Circle: The Murder Observatory

11 सालों की कड़ी मेहनत के बावजूद जर्मनी का पुरातत्व विभाग इस गोलाकार डिज़ाइन के बारे में कुछ भी ठोस जानकारी हासिल नहीं कर पाया है. 1991 में पहली बार इस डिज़ाइन को आसमान की ऊंचाई से देखा गया था. पहले ये किसी आम आकृति की तरह ही दिखा. लेकिन कुछ समय बाद जब जांच की गई, तब इसकी उम्र का अंदाज़ा लगाया गया. पुरातत्व विभाग के अनुसार ये डिज़ाइन सात हज़ार साल पुराना है. लेकिन इससे ज़्यादा जानकारी से आज तक पूरी दुनिया अंजान है.

धरती पर न जाने कितने अजूबे आज भी देखे जा सकते हैं, जिनकी असली पहचान हम से आज भी उतनी ही दूर है जितना ब्रह्मांड. अनुमान के आधार पर कोई कुछ भी कहे, लेकिन ठोस सबूत के साथ कोई भी इन जगहों के बारे में कुछ नहीं कह सकता.

Image Source: cracked