सच में नारी शक्ति का आकंलन कर पाना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है. पुणे की शीतल राणे-महाजन ने थाइलैंड में बीते सोमवार को रंगीन नौवारी साड़ी पहनकर, स्काइडाइविंग करने वाली पहली भारतीय महिला बनने का रिकॉर्ड बनाया है.

Source : IndiaTimes

अपने आप में ये अनोखा रिकॉर्ड बनाने के बाद राणे ने कहा कि मौसम अनुकूल होने के कारण, वो विश्व प्रसिद्ध पर्यटक रिसॉर्ट पट्टाया के ऊपर एक विमान से लगभग 13 हज़ार फीट की ऊंचाई से दो बार छलांग लगाने में कामयाब रहीं. आगे वो कहती हैं कि 'मैं अगले महीने आने वाले अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर कुछ अलग करना चाहती थी. इसलिए मैंने अपने स्काइडाइव के लिए 'नौवारी' साड़ी पहनने का फ़ैसला लिया.' बता दें, महाराष्ट्र की मशहूर 'नौवारी साड़ी' आम भारतीय साड़ियों से अधिक लंबी होती है.

Source : IndiaTimes

ज़ाहिर सी बात है कि साड़ी पहनकर स्काइडाइविंग करना बच्चों का खेल नहीं है. इसीलिए ये काम राणे के लिए काफ़ी मुश्किल भरा रहा होगा. वो कहती हैं, 'पहले साड़ी, उसके ऊपर पैराशूट पहनना, फिर सेफ्टी गियर, संचार सामग्री, हेलमेट, चश्मा लगाना और जूते पहन के स्काई डाइविंग को बेहद चुनौतीपूर्ण बना दिया था.'

Source : IndiaTimes

35 साल की इस बहादुर महिला का कहना है कि 'मैं ये साबित करना चाहती थी कि भारतीय महिलाएं न सिर्फ़ अपनी सामान्य दिनचर्या में साड़ी पहन सकती हैं, बल्कि स्काइडाइविंग जैसे रिस्की एडवेंचर को भी अंजाम दे सकती हैं.'

इस जोख़िम भरे काम को मुस्कुरा कर अंजाम देने के लिए शीतल राणे-महाजन के हौसले को सलाम!

Source : DNA