खाने के चटोरे लोग मुख्य रूप से वेज और नॉन वेज देखते ही अलग हो जाते हैं. इसके बाद बात आती है चाइनीज़, पंजाबी, इटैलियन डिशेज़ की. इसमें अपनी-अपनी वेराइटी होती है और वेजीटेरियन लोग बड़ा सोच समझ कर, अंडे का परहेज करते हुए अपना आॅर्डर देते हैं. लेकिन शायद वो इस बात से अंजान होते हैं कि जिस वेज इटैलियन डिश का वो आॅर्डर दे रहे हैं, उसमें पड़ा Parmesan Cheeses अधिकतर वेज नहीं होता.

Source- Nbcnews

BuzzFeed की रिपोर्ट के अनुसार ये Parmesan Cheese बनाने के लिए Rennet नाम का Enzyme पड़ता है, जो बछड़े के पेट से निकलता है. जब बछड़ों को मीट के लिए मारा जाता है, तब ये Enzyme उनके पेट से निकाला जाता है. Rennet की वजह से ही Parmesan, Gruyere और Manchego Cheese सख़्त और ठोस होते हैं.

वैसे अमेरिका की कुछ कंपनी Parmesan Cheese बनाने के लिए Fermentation और जीवाणु का इस्तेमाल भी करती हैं. जैसे Cabot Cheese सिर्फ़ जीवाणु से बने Enzymes ही इस्तेमाल करते हैं, जो कि पूरी तरह से वेज है. लेकिन परेशानी तब होती है, जब कंपनियां साफ़-साफ़ इसके बारे में नहीं लिखतीं.

Business Insider की रिपोर्ट के अनुसार, जब उन्होंने Kraft Parmesan Cheese के Ingredients देखे तो उसमें लिखा था Cheese Contains 'Enzymes'. अब ये बछड़े के पेट से निकले Enzymes हैं या Fermentation से बने इसकी जानकरी उन्होंने पूछे जाने पर भी नहीं दी.

ऐसे में शाकाहारी बस इसी दुविधा में रहते हैं कि कहीं वो नॉन वेज तो नहीं खा रहे.

Source- Business Insider