फ़िल्मों में आज कल VFX का बड़ा इस्तेमाल हो रहा है. इसी VFX के इस्तेमाल से आम-सी चीज़ों को इतना खास बना दिया जाता है कि दर्शक दांतों तले अपनी उंगलियां चबाने को मजबूर हो जाता है. आज हम भी आपके लिए फ़िल्मों में इस्तेमाल होने वाले इस VFX की कुछ ऐसी तस्वीरें ले कर आये हैं, जिन्हें देख कर आप भी कहेंगे इ का बवाल है बाबू!

ओ तो ये बात है!

ऐसे बसाया जाता है एक अकेले कमरे में पूरा शहर.

बाबा ने बिना एक्सरसाइज के ही एब्स बना डाले.

ऋतिक ने यही काइट्स उड़ाई थी.

'दिल तो बच्चा है जी' का दृश्य.

'दे दाना दान' फ़िल्म के आखिर में ऐसे गिराया गया था पानी.

VFX ने यहां भी चक दिया.

पर्दे के पीछे.

जब तक सिनेमा चलता रहेगा, तब तक लोगों का फुद्दू कटता रहेगा.

सब आंखों का खेल है बाबा.

कोर्ट हो या सड़क भाई हर जगह ऐसे ही लटकते हैं.

किंग खान भी कुछ कम नहीं.

खिलाड़ी कुमार के खिलाड़ी बनने की कथा.

अब समझे ये हरा पर्दा कितने कमाल का है

मैं अगर कहूं कि तुमसा हंसी कायनात में कहीं है नहीं.

आज सबकी पोल खोलेंगे.

बाबा खड़े-खड़े ही बॉर्डर बना दिया.

लगता है फुद्दू बनाने की हवा-सी चल पड़ी है.

जियो रे बाहुबली.

VFX इज़ द सीक्रेट ऑफ़ बाहुबली.

आजा तुझको पुकारे मेरे गीत रे.

देखो आई... आई... चेन्नई एक्सप्रेस आई.

सब मोह माया है गुरु.

इ तो कमाल हो गया, खाली पड़े स्टेडियम में बवाल हो गया.

भाई तू ऐसे नहीं जा सकता.

ओ... ओ... ओ...

अइला हमारा गोला कहां गया?

डॉन को पकड़ना अब आसान हो गया है.

भाई जो दिखता है, वो बिकता है.

समझे एक जगह ही कैसे इकट्ठा हो गए थे स्टार!

हम तुम एक कमरे में बंद हों.

Source: indiatimes brandsynario