ज़िन्दगी का सबसे बड़ा और खूबसूरत फ़ैसला होता है शादी. फिर चाहे वो कोई लड़की हो या लड़का हर कोई शादी के लिए बहुत सपने देखता है. ऐसा ही एक खुशनुमा पल आया एसिड अटैक सरवाइवर ललिता बेनबांसी की ज़िन्दगी में, जब राहुल कुमार ने ललिता को प्रपोज़ किया और बीते मंगलवार राहुल और ललिता सात फेरों के बंधन में बंध गए.

Source: indiatimes

ललिता उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से हैं और 2012 में ललिता पर आपसी खुन्नस के चलते उनकी ही कज़न ने एसिड फिंकवा दिया था. इस अटैक के बाद उनका पूरा चेहरा जल गया था, जिसके कारण ललिता को 17 बार सर्जरी के दर्द को झेलना पड़ा. हालांकि, अभी भी ट्रीटमेंट पूरा नहीं हुआ है. लेकिन उन्होंने कभी भी हिम्मत नहीं हारी.

राहुल और ललिता की प्रेम कहानी किसी बॉलीवुड फ़िल्म से कम नहीं है. जी हां, एक बार गलती से राहुल ने ललिता का फ़ोन मिला दिया था. बस तभी से इनकी प्रेम कहानी शुरू हो गई और दोनों ने दो महीने बाद ही शादी करने का फ़ैसला कर लिया. आज ये शादी के पवित्र बंधन में बंध चुके हैं. शादी के मौके पर दूल्हे राहुल कुमार ने अपनी पत्नी की तारीफ़ करते हुए कहा कि उनका दिल सच्चा है और यही मायने रखता है.

राहुल का कहना है, 'बस एक रॉन्ग नंबर ने मेरी दुनिया बदल दी. मैं नहीं जानता था कि एक रॉन्ग नंबर मेरी ज़िन्दगी बदल देगा.'

ललिता अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए कहती हैं कि 'सोचा नहीं था कभी शादी होगी. राहुल को मेरी सचाई पता थी, लेकिन फिर भी वो मुझसे शादी करने के लिए तैयार थे.' गौरतलब है कि राहुल मुंबई के मलाड में एक सीसीटीवी ऑपरेटर हैं. उनका कहना है कि मेरे इस फ़ैसले में मेरी मां और पूरे परिवार की सहमती है और उन्होंने हर मौके पर मेरा साथ दिया है.

Source: indiatimes

ललिता और राहुल की शादी में विवेक ओबरॉय, फैशन डिजाइनर अबू जानी जैसी कई हस्तियों ने भी शिरकत की और उनको शुभकामनाओं सहित तोहफ़े भी दिए. ख़बरों के हिसाब से ललिता से विवेक इसी साल मार्च में एक अवेयरनेस प्रोग्राम के दौरान मिले थे, जिसके बाद उनको ललिता की ज़िन्दगी के संघर्ष और समस्याओं के बारे में पता चला था. उसी दौरान विवेक को ये भी पता चला था कि ललिता के पास घर नहीं है. तब उन्होंने ललिता को घर दिलाने की बात कही थी.

Source: indiatimes

ललिता की शादी के मौके पर जहां डिज़ाइनर अबू जानी और संदीप खोसला ने ललिता का शादी का लहंगा बनाया और नेकलेस दिया, वहीं विवेक ओबेरॉय ने उनके हाथों में ठाणे स्थित एक नए फ़्लैट की चाभियां थमां दीं.

विवेक ओबरॉय ने इस जोड़े को शुभकामनाएं देते हुए कहा, 'ललिता मजबूत लड़की है.' और 'राहुल उससे सच्चा प्यार करते हैं'.

विवेक ओबेरॉय ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक फ़ोटो शेयर करते हुए लिखा है, 'ललिता एक बहादुर और मज़बूत लड़की हैं, उन्होंने दुनियाभर की एसिड अटैक सरवाईवर्स के सामने ये उदाहरण पेश किया है कि हादसों से ज़िन्दगी रूकती नहीं, बल्कि कुछ देर के लिए थम जाती है. आपकी ज़िन्दगी में हुआ हादसा फ़ुल स्टॉप नहीं, बल्कि एक कौमा है. ज़िन्दगी में बहुत से मौके और संभावनाएं होती हैं.'

Source: indiatimes