अगर आपको लगता है कि आपके बच्चे की याददाश्त कमज़ोर है, या वो किसी बात को याद नहीं कर पाटा है, तो अब आपकी इस समस्या का समाधान मिल गया है. जी हां, एक रिसर्च का ये का दावा है कि रोज़मैरी के तेल की ख़ुशबू बच्चों की मेमोरी को बढ़ाने में सहायक हो सकती है. वर्किंग मेमोरी या कार्य स्मृति किसी भी तरह के तर्क और निर्णय लेने और उसके व्यवहार के मार्गदर्शन के लिए बहुत महत्वपूर्ण है.

Source: hindustantimes

लन्दन की Northumbria University के रिसर्चर्स ने 10 से 11 साल के 40 बच्चों पर एक रिसर्च की. इस रिसर्च में इन बच्चों को क्लास टेस्ट रूप में अलग-अलग टास्क दिए गए. इन बच्चों में से कुछ को एक ऐसे कमरे में भेजा गया, जहां रोज़मेरी यानि रोज़मैरी की ख़ुशबू फैली हुई थी, तो कुछ बच्चों को उस कमरे में भेज गया जहां पर किसी तरह की कोई ख़ुशबू नहीं थी. इस रिसर्च से ये बात सामने आयी कि जो बच्चे ख़ुशबूदार कमरे में थे उनको, उन बच्चों की तुलना में ज़्यादा मार्क्स मिले, जो बच्चे बिना ख़ुशबू वाले कमरे में थे. इसमें भी उस टास्क में, जिसमें शब्दों को याद करना था, ख़ुशबूदार कमरे वाले बच्चे आगे निकले.

Source: thehealthsite

हालांकि, अभी इस बात पर बहस चल रही है कि क्यों और कैसे रोज़मैरी बच्चों की याददाश्त बढ़ाने में कारगर है. Northumbria University के Mark Moss का कहना है, 'हो सकता है कि रोज़मैरी के तेल की ख़ुशबू या अरोमा दिमाग पर सीधा प्रभाव डालता हो और उसकी गतिविधियों को ज़्यादा बढ़ा देता हो.'

Source: jujuaroma

इससे पहले की गई एक रिसर्च में ये दावा किया गया था कि रोज़मैरी के तेल की ख़ुशबू स्वस्थ वयस्कों में अनुभूति की शक्ति को बढ़ा सकती है.

Moss कहते हैं कि ये जानते हुए कि वर्किंग मेमोरी शैक्षिणिक उपलब्धियों के लिए कितनी महत्वपूर्ण है, 'हम ये देखना चाहते थे कि क्या वयस्कों की तरह ही स्कूल जाने वाले बच्चों पर भी क्लास में रोज़मैरी की ख़ुशबू का वही प्रभाव होता है या नहीं'. इसके साथ ही वो कहते हैं, 'हम जानते हैं कि ख़राब मेमोरी का सीधा सम्बन्ध बच्चे की स्कूल में परफॉरमेंस पर पड़ता है. संभवतः ये रिसर्च बच्चों में पढ़ाई में बेहतर प्रदर्शन करने का सस्ता और सरल उपाय साबित हो.'

इस स्टडी को लन्दन के British Psychological Society की सालाना कॉन्फ्रेंस में प्रेज़ेंट किया गया था.

Feature Image Source: hindustantimes

Source: hindustantimes