घर से ऑफिस जल्दी में निकलने की वजह से कभी-कभी बेसिक मेकअप करना रह जाता है. तो मैंने ऑफिस पहुंचे ही सीट पर बैठ कर काजल लगा लिया, ताकि हुलिया थोड़ा सही लगे. जैसे ही अपनी सीट पर वापस आई, मेरे कलीग ने कह दिया, 'यार तुमसे से उम्मीद नहीं थी'.

Source: metro.uk
इस लाइन का मतलब पूछा, तो उसने कहा कि वो सोचता था, मैं उन लड़कियों की तरह नहीं हूं, जो कभी ऑटो में, कभी मेट्रो में मेकअप करती हुई दिख जाती हैं. मुझे ये बात बोलने वाला कलीग ख़ुद हर शाम को आराम से Deo की बौछार करता है.

बस उस बात से एक बहस शुरू हुई कि लोगों को मेकअप करती हुई लड़की से इतनी प्रॉब्लम क्यों है?

ट्रेन में या बस में कॉम्पैक्ट या लिपस्टिक लगाती लड़की को जिस तरह से नाक-मुंह बना कर लोग देख रहे होते हैं, उससे एक बात तो साफ़ हो जाती है कि लोगों को ये पसंद नहीं.

क्यों पसंद नहीं?

Source: metro.uk

इसकी वजह पूछने पर साथ का एक दोस्त कहता है कि ये सब काम घर पर करने वाले होते हैं. जैसे अगर मैं रास्ते में ब्रश करता हुआ दिखूं, तो किसी को भी चिढ़ मचेगी. कुछ काम प्राइवेट होते हैं, और मेकअप भी उसी में गिना जाता है. आपको मेकअप करता हुआ देख कर लोगों को अपने प्राइवेट स्पेस के साथ छेड़-छाड़ लगती है.

लेकिन इसी बाद को ऑफिस की एक सीनियर ने कुछ यूं कह कर खारिज किया कि अगर लोगों को लगता है कि हर लड़की बिना ढंग से तैयार हुए अच्छी लगती है, तो ये उनकी ग़लतफ़हमी है. Out of Bed लुक सिर्फ़ बोलने के लिए होता है, ऐसा असलियत में कुछ नहीं होता. आपको तैयार होने के लिए टाइम चाहिए और इसमें कोई बुराई नहीं है. लोगों को ये Accept करना पड़ेगा कि कुछ लोगों को ख़ुद को अच्छे से प्रेजेंट करना पसंद होता है.

लिपस्टिक लगाने और मेकअप की दुकान लगाने में फ़र्क है

Source: Omgstory

मेट्रो या बस में बैठे हुए टचअप करने या लिपस्टिक लगाना अलग बात है और अपना वैनिटी बॉक्स खोल के बैठ जाना अलग. उन लड़कियों को ज़रूर बोला जाना चाहिए तो Eyelash Curler भी चलती मेट्रो में इस्तेमाल करती हैं. लेकिन जब लोग काजल लगा रही एक लड़की को भी घूर रहे होते हैं, तो ज़रूर गुस्सा आता है.

Metro Lifestyle ने हाल ही में एक सर्वे करवाया कि क्या पब्लिक ट्रांसपोर्ट में मेकअप करना Acceptable है?

  • 34 प्रतिशत ने कहा हां, 26 परसेंट को ये पसंद नहीं है, लेकिन बाकी 40 परसेंट ने कहा, ये तब तक ठीक है, जब आप हल्का टचअप कर रहे हों.
Source: livestrong

अपनी कहानी शेयर करते हुए एक फ्रेंड बताती हैं कि एक बार उन्हें 10 मिनट में मीटिंग में जाने को बोला गया. उसने फटाफट कैब मंगवाई और मीटिंग के लिए निकली. रास्ते में उनसे थोड़ा टचअप कर लिया, ताकि Presentable लगे.

ये अच्छा तरीका का टाइम बचाने का. इस बात से इतना तो समझ आया ही, कि ज़्यादातर लड़कियां टाइम सेव करने के लिए टचअप करती हैं. लेकिन ये समझ एक लड़की में होनी चाहिए कि वो ऑफिस में बैठ कर Perfume के स्प्रे से सबको घायल न कर दे.

Featured Image Source: Metro.uk