खट... खट... खट खट... खट... खट

कुछ ऐसी ही आवाज़ करता है न आपका Keyboard जब आप ऑफिस में जल्दी-जल्दी काम कर रहे होते हैं? आप Type करते हैं, और जल्दी से Keyboard के कुछ बटन आपकी सारी बात को लिखते चले जाते हैं.

Source: Pixabay

कभी सोचा है कीबोर्ड पर बने ये जो बटन हैं, ये Alphabetical Order यानि A, B, C. D..., इस ऑर्डर में क्यों नहीं हैं? अभी जितने भी लैपटॉप Keyboard या आपके स्मार्टफोन का Keyboard है, वो QWERTY फॉर्मेट में ही क्यों है?

सोचो सोचो!

थोड़ा-सा तो सोचो!

इतनी जल्दी हर मान ली?

इससे पहले हम आपको इसका जवाब दें, आपको दिखाते हैं एक Typewriter की फोटो, जो QWERTY फॉर्मेट में था.

मतलब हमारे कंप्यूटर पर आने से पहले Keyboard का ये फॉर्मेट चलन में था. इस स्टाइल को बनाया था Christopher Latham Sholes ने.

लेकिन पहले ऐसा नहीं था, पहले Typewriter के Keyboard भी A,B,C,D फॉर्मेट में हुआ करते थे. लेकिन इससे Type करने में वो Speed और सुविधा नहीं थी, जैसे कि आज होती है.

कई लोगों ने Typing स्पीड बढ़ाने के लिए कुछ न कुछ एक्सपेरिमेंट किये, लेकिन जो सफल मॉडल सामने आया, वो था ये QWERTY मॉडल. इससे लिखने में भी आसानी होती थी, और स्पीड भी बनी रहती थी.

चलिए आपको बताते हैं Keyboard के Evolution के बारे में:

सबसे पहले आया Christopher Latham Sholes का ये QWERTY Keyboard वाला Typewriter.

लेकिन Keyboard वाले Typewriter में लिखना थोड़ा मुश्किल होता था. इसका कारण था कि Keys के बीच में Space उतना नहीं रहता था, जितना आज के समय है. उस समय Typewriter की Keys भी मोटी और उठी हुई रहती थी, जिसकी वजह से जल्दी Type करना नामुमकिन था.

इसके बाद भी Sholesजैसे Designers ने इसमें कुछ बदलाव करने की सोची. सामने आया कुछ ऐसा Keyboard:

QWERTY से पहले, ABCD वाले Keyboard कुछ ऐसे दिखते थे. ये ऑर्डर में तो थे, लेकिन पर अब हमें देखने में थोडे अजीब लगेंगे.

कुछ समय एक DVORAK मॉडल भी आया, जो Alphabetical तो नहीं था, लेकिन इतना सुविधाजनक भी नहीं था.

अब चूंकि हम QWERTY Keyboard यूज़ करते हैं, इसलिए Typing बेहतर और आसान हो गयी है, बशर्ते आप अपने हाथ और उंगलियों को सही से रखना जानते हों.

Computer का Keyboard बाकी सब से बेहतर होता है और इसकी Keys एक-दसूरे से अच्छी दूरी पर होती हैं, इसलिए आप बिना रुकावट के आसानी से Type कर लेते हैं वो भी फुल स्पीड में.

वैसे कंप्यूटर के Keyboards में भी पिछले कुछ समय से कई बदलाव आये हैं.

ये फर्क आपको अपने पुराने सिस्टम और Macbook जैसे Laptops में देखने को मिलेगा.

यानि अगर अप तेज़ Type करते हैं, तो इसका श्री केवल आपको ही नहीं, उन सभी लोगों को जाता है, जिन्होंने Typing को आसान और फ़ास्ट बनाने के लिए लगातार प्रयास किये. चलो, एक बार Thanks कह दो उन सभी लोगों को!

Source: Media Giphy

Source: Life Buzz