दोस्तों सर्दियों में ठण्ड का एहसास होना लाज़मी है, लेकिन कुछ लोगों को गर्मी में भी सर्दी का एहसास होता रहता है. मगर कुछ लोगों को हमेशा गर्मी लगती रहती है, चाहे फिर मौसम सर्दी का ही क्यों न हो. आपने भी अपने आस-पास ऐसे लोगों को देखा होगा जो चिलचिलाती गर्मी में भी हाय ठण्ड, हाय ठण्ड करते होंगे.

तो चलिए हम आज आपको ये बताते हैं कि आख़िर इसके पीछे कारण क्या है?

अगर आपको अचानक ही ठंडक का या बुख़ार का एहसास होने लगे, जबकि आपके कमरे या बाहर के तापमान में कोई बदलाव नहीं हुआ हो, तो इसका सीधा मतलब है कि जल्द ही आप बीमार पड़ने वाले हैं. और अगर फिर भी कोई दोराय हो कि यह तो होता रहता है अब इसके लिए क्या किया जा सकता है, तो ये सोचना एकदम गलत है - बल्कि आपको बिना एक भी पल गंवाये सीधे डॉक्टर के पास जाना चाहिए.

अगर कभी ऑफिस में आपके कलीग ने खुद को गर्म कपड़ों से कवर कर रखा है, जबकि आप एक पतली सी टी-शर्ट या ब्लाउज़ में भी पसीने से भीग गए हैं, तो इसका साफ़-साफ़ मतलब है कि आपके शरीर का तापमान काम के प्रेशर और तनाव या परिवार और रिश्तों में तनाव के चलते ज़्यादा है. इस स्थिति में आपको ज़्यादा कुछ करने की ज़रूरत नहीं है, बल्कि ज़िन्दगी को तनाव मुक्त जीने की कला सीखनी होगी. बस दुनिया भर की चिंताओं को छोड़ कर केवल सकारात्मक सोचो.

कई बार हम लोग अपने दिमाग के अनुसार तापमान को फील करते हैं, भले ही हमारे कमरे और बाहर का तापमान न ही गर्म हो और न ही ठंडा. कई तरह की रिसर्च में ये बात सामने आई है कि जब कोई अकेला या उदास होता है, तब वह ठंडक महसूस करता है. ठीक इसके विपरीत अगर कोई बहुत खुश हो या सबके साथ मिल-जुल कर रहता है तो उसको एक अलग तरह की गर्मी का एहसास होता है. यही कारण है कि अगर आप लोगों से घिरे हुए हैं तो आप एक खास क़िस्म की गर्माहट महसूस करते हैं. वास्तव में यह एक एहसास ही है जो हमको सर्दी और गर्मी का अनुभव कराता है.

आइये अब आपको बताते हैं ऐसी स्थिति से कैसे बाहर आ सकते हैं?

वैसे तो सबको ही पता होगा कि हमें मौसम के अनुसार कपड़े पहनने चाहिए. हम सब ही इस बात से वाकिफ़ होंगे कि गर्मी में हमें कितने कपड़े पहनने हैं और सर्दी में खुद को कितने कपड़े पहन कर ठण्ड से बचाना है. फिर भी हमारी सलाह है कि कहीं भी जाने के लिए रेडी होने से पहले एक बार अपनी खिड़की से बाहर देख कर मौसम का जायज़ा लें और उसी के हिसाब से कपड़े पहनें.

मौसम के हिसाब से खुद को फिट रखने के लिए उस मौसम में मिलने वाले फलों को नियमित रूप से खाना चाहिए. हर मौसम के लिए कुछ अलग तरह का खाना होता है, जैसे सूप और कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन सर्दी के मौसम में आपको गर्मी का एहसास दिलाएगा. इसके साथ ही सब्ज़ियां, दालें और प्रोटीनयुक्त भोजन आपको गर्मी के मौसम में फिट रहने में मदद करेंगे.

अपने दिमाग से यह निकाल दें कि हाय बहुत गर्मी है या बहत सर्दी है. ऐसी जगहों, जैसे समुद्री किनारों या ट्रॉपिकल पैराडाइज़ के बारे में सोचने से बॉडी में से Endorphins Chemical रिलीज़ होते हैं, जो शरीर के तापमान को बनाये रखने में सहायता करते हैं.

ऑफिस में थर्मोस्टेट को 70 से 75 डिग्री तक रखना वहां मौजूद हर व्यक्ति के लिए परफेक्ट तापमान बनाने में मददगार साबित होगा.

तो दोस्तों, चलिए अब हो जाइये तैयार गर्मी में गर्मी और सर्दी में सर्दी के मज़े लेने के लिए.

Feature Image Source: elitedaily