हमें सर्दी की चाय पसंद होती है, नर्म-नर्म रज़ाई में देर तक सोना पसंद है क्योंकि हम अपनी न्यूनतम ज़रूरतों को पूरा कर लेते हैं इसलिए हमें सर्दी अच्छी लगती है लेकिन जिनके सिर पर छत नहीं होती, जिन्हें कंबल किसी अमीर इंसान के दान करने के बाद नसीब होता है, क्या उन्हें भी सर्दी अच्छी लगती होगी?

अगर आप इस सवाल से परेशान हुए हैं तो इसका एक हल आपके पास भी है. हर साल आप सर्दी के मौसम में कुछ गर्म कपड़ें ज़रूर ख़रीदते होंगे. इस वजह से आपके पास ऐसे कपड़ों का ढेर भी लग चुका होगा, जिसे आप इस्तेमाल नहीं करते होंगे. क्यों न उन कपड़ों को वैसे लोगों को दो दिया जाए जिन्हें उसकी सख़्त ज़रूरत है.

अगर आप अपनी ओर से सड़क पर रहने वाले ज़रूरतमंदों की मदद करना चाहते हैं तो इस काम में आपको ढेरों NGO की मदद मिल जाएगी.

1. Care For Bharat

Source: b'Source:\xc2\xa0PIXABAY'

ये संगठन आपको आपके स्थानीय NGO के बारे में पूरी जानकारी देगा और वो NGO का उद्देश्य क्या है उसको भी विस्तार से बताएगा. आपको बस फ़ोन घुमाना है और वो ख़ुद घर आकर कपड़े ले जाएंगे.

स्थान- दिल्ली, फ़ोन- 91-9999675100, E-mail- [email protected]

2. Goonj

Source: b'Source:\xc2\xa0THE ALTERNATIVE'

ये संगठन मुख्य रूप से दिल्ली में सक्रिय है. हालांकि कई शहरों में इसके केंद्र हैं. आप किसी भी नज़दीकी केंद्र पर जाकर कपड़े छोड़ सकते हैं. गूंज शहर के अलावा देहाती क्षेत्रों में भी काम करती है.

स्थान- दिल्ली, चंडिगढ़, सिलिगुड़ी, बेंगालुरु, कोलकाता, फ़ोन- 011-26972351,41401216, E-mail- [email protected]

3. Aashray Adhikar Abhiyan

Source: b'Source:\xc2\xa0ASHRAMBLINGS'

ये संगठन भारत में रहने वाले बेघरों के हक़ की लड़ाई लड़ रहा है. वर्तमान में आश्रय अधिकार अभियान नि:शुल्क रहने के लिए घर, और कंबल मुहएया करा रहा है. इसे जुड़े लोग समय-समय पर स्वास्थय शिविर भी आयोजित करते हैं.

स्थान- S-442, School Block, Shakarpur, 011 22481609, Website- WWW.Homelesspeople.In

4. Agewell Foundation

Source: b'Source:\xc2\xa0TWITTER'

ये संगठन ख़ास तौर पर बुज़ुर्गों की मदद के लिए कार्यरत है. हर साल सर्दियों के मौसम में ये Share The Warmth Campaign चलाते हैं. इसके तहत वो शहर में कुछ पिकअप प्वॉइंट बनाते हैं, जहां आप अपने पुराने कपड़े छोड़ सकते हैं.

स्थान- लाजपत नगर, दिल्ली, Website- WWW.Agewellfoundation.Org

5. Clothes Box Foundation

Source: b'Source:\xc2\xa0TWITTER'

इस संगठन से संपर्क साधना बेहद आसान है. आपको बस इनके फ़ेसबुक पेज़ पर जाकर ये मेसेज करना है कि आप कपड़े देने के इच्छुक हैं. ये आपकी सहूलियत के हिसाब से तय समय पर कपड़े लेने आपके दरवाज़े पर आ जाएंगे.

स्थान- गुरुग्राम, Contact- 07838371356, E-mail- [email protected]

6.WHY Foundation

Source: b'Source:\xc2\xa0TWITTER'

इस संगठन के लोग लोगों से पुराने/नए कंबल और कपड़े इकट्ठा करके सीधे दिल्ली की सड़कों पर रहने वाले बच्चों के दे देते हैं.

फ़ोन- 7840026033(Gurgaon), 98102 99873(Dwarka, Delhi), 9953742273 (Janakpuri, Delhi), 9873721279 (Shalimar Bagh, Delhi)

E-mail- [email protected]

7. American Welcome Association

Source: b'Source:\xc2\xa0\xc2\xa0AMERICAN WELCOME ASSOCIATION'

ये संस्था गरीबों में कपड़ों के अलावा किताबें भी बांटती है. इसलिए अगर आप अपनी पुरानी किताबें भी देना चाहते हैं, तो इनसे संपर्क कर सकते हैं.

स्थान- दिल्ली, फ़ोन- 2419-8509, E-mail- [email protected]

8. Share At Door Step

Source: b'Source:\xc2\xa0SADSINDIA'

बेंगालुरु स्थिति ये सेवा संगठन आपके दरवाज़े पर आकर हर वो चीज़ एकत्रित कर लेती है, जिसे आप दान करने के इच्छुक हैं. ये संगठन भारत के 100 अन्य NGO के साथ मिल कर काम करती है.

फ़ोन- +918884784742, Website: WWW.Sadsindia.Org

9. Pahel

Source: b'Source:\xc2\xa0PAHEL'

ये संगठन भी कपड़ा वितरण के लिए कैंप लगाता है. संगठन के स्वयं सेवी लोगों के घर जाकर कपड़े इकट्ठा करने का काम करते हैं.

फ़ोन- 011 29968809, Email- [email protected]

10. Uday Foundation

Source: b'Source:\xc2\xa0TWITTER'

उदय फ़ाउंडेशन #winterofhope नाम से एक कैंपेन चलाती है. आप यहां कपड़ों के अलावा सर्दियों में इस्तेमाल होने वाली अन्य ज़रूरी चीज़ें जैसे जूते, कंबल आदी दान कर सकते हैं.

स्थान- श्री अरबिंदो मार्ग, दिल्ली  फ़ोन- 011- 26561333, 011-26561444, Website- WWW.Udayfoundationindia.org

वैसे तो ठीक यही होगा कि ज़रूरतमंदों को आप कपड़ें बाटें लेकिन अगर वो नहीं है तो प्यार की गर्माहट भी कम नहीं होती, प्यारभरे दिल से आप जैसी मदद करेंगे वो काफ़ी होगा. एक ज़रूरी बात, कृपया इसे आप फटे पुराने कपड़ों को ठिकाने लगाने का ज़रिया न समझिएगा, बेहतर होगा कि आप उन कपड़ों को भी दें जो ठीक हालत में है.