कुछ दिन पहले बेंगलुरू में अजीब मामला सामने आया था. यहां 23 साल की एक महिला के साथ छेड़छाड़ कर, उसकी जीभ काट दी गई थी. हालांकि, पुलिस छानबीन में पता चला कि ये एक सुनियोजित घटना थी. इस मामले में पीड़िता के 34 वर्षीय जीजा को गिरफ्तार कर लिया गया है. पूरे मामले को समझते हैं.

बेंगलुरू के नागवाड़ा में शुक्रवार की सुबह 23 साल की महिला के साथ छेड़खानी और दांतों से उसकी जीभ काटे जाने का मामला सामने आया था. इस घटना से सब चकित थे. मगर इसमें दिलचस्प कहानी है.

दरअसल, ये सोची-समझी चाल इरशाद ख़ान नाम के एक शख़्स की है. वो पीड़िता से प्यार करता था और उससे शादी भी करना चाहता था. मगर उनके रिश्ते पर परिवारवाले और उसकी पत्नी को आपत्ति थी. परिवार में विरोध बढ़ता देख इरशान ने उस लड़की को यौन शोषण कर शिकार उसे दागदार दिखाने की योजना बनाई, ताकि ऐसा होने पर वो पीड़िता का हाथ मांग सकेगा.

घटना के बाद जब इरशाद ने फुटेज देखा, तो उसका प्लान कामयाब होता नज़र आया. फ़िलहाल पुलिस इस बात की पुष्टि करने में जुटी है कि महिला इस प्लान में शामिल थी या नहीं. हालांकि मामले पर करीबी से नज़र रखने वाले सूत्रों का कहना है कि इस योजना में महिला भी शामिल थी, उसके ख़िलाफ सबूत जुटाने के लिए आगे की जांच जारी है.

इस घटना पर एसीपी ईस्ट हेमंत निंबलकर ने कहा, 'महिला ने छेड़छाड़ का गंभीर आरोप लगाया है, हम जांच जारी रखेंगे और उसके हिसाब से कार्रवाई की जाएगी.'

कहते हैं कि प्यार और युद्ध में सबकुछ जायज़ है. मगर इरशाद ने जो कुछ किया उसे बेवकूफी कहते हैं. पुलिस इस मामले में स्पष्ट जानकारी नहीं दे रही है. अब आने वाला समय ही बताएगा कि असल में मामला क्या है?