30 वर्षीय Pilar Olave का इम्यून सिस्टम उल्टा काम करने लगा है, जिसकी वजह से उन्हें कई चीज़ों से एलर्जी हो गयी है. इसमें खाना तक शामिल है. ऐसा बहुत समय तक एक गैस के संपर्क में रहने से हुआ है, जो उनके बेडरूम में लीक हो रही थी.

Pilar, LA में एक एक्ट्रेस के तौर पर काम करती थीं. पिछले दो सालों से, गंभीर एलर्जी के कारण वो बिस्तर पर रहने को मजबूर हैं. इस एलर्जी के लक्षण पेट दर्द और सांस लेने में तकलीफ़ के साथ शुरू हुए थे और ये समय के साथ बढ़ते गए.

अब उन्हें खाने से, लोगों से, पानी से, कपड़ों से, यहां तक कि अपने फ़ोन से भी एलर्जी हो चुकी है. शुरू में डॉक्टर्स इसके कारण का पता नहीं लगा पा रहे थे, बाद में पता चला कि ये एक गैस के कारण हुआ है, जो सालों से उनके बेडरूम में लीक हो रही थी.

Pilar बताती हैं कि उन्हें सेंट और केमिकल्स से दिक्कत होने लगी थी. जब भी वो मेक-अप करतीं या हेयर-स्प्रे लगातीं, उन्हें पेट दर्द, सर दर्द, चक्कर आने जैसी समस्याएं होने लगती थीं. खिड़कियां खुली होने पर भी उन्हें घुटन होती थी और सांस नहीं ली जाती थी. धीरे-धीरे उन्हें कम दिखाई देने लगा और तेज़ी से वज़न भी घटने लगा. जब वो कुछ खाती थीं, तो बेहोश हो जाती थीं. कई बार ऐसा भी हुआ कि उनका दम घुटने लगा, पर जब उन्हें इमरजेंसी रूम में ले जाया जाता, तो डॉक्टर्स उनकी तकलीफ़ की वजह नहीं समझ पाते.

गैस लीक के बारे में पता चला, तो डॉक्टर्स ने Pilar की स्थिति को Extreme Environmental Poisoning का केस बताया. उनके दिमाग और फेंफड़ों में ऑक्सीजन की इतनी कमी हो चुकी थी कि उनके शरीर का इम्यून सिस्टम ज़रूरत से ज़्यादा सक्रीय हो गया था और हर चीज़ पर हमला करने लगा था.

अब वो किसी को छू भी नहीं सकती हैं, क्योंकि उनकी बॉडी बैक्टीरिया के प्रति अतिसंवेदनशील हो चुकी है. यानि ये कहा जा सकता है कि उन्हें अपने पति तक से एलर्जी हो चुकी है.

अब तक उनके 200 ऑक्सीजन सेशन किये जा चुके हैं. इनकी बदौलत अब वो फिर से खाना खाना शुरू कर पायीं हैं और थोड़ा-बहुत बाहर निकलने लगी हैं.

वो बताती हैं कि Hyperbaric Chamber से ऑक्सीजन लेने के बाद से उनकी हालत में कुछ सुधार आया है. वो चलने-फिरने और बोलने में दोबारा सक्षम हो गयी हैं. उन्हें पूरी तरह ठीक होने में अब भी सालों का वक़्त लग सकता है.

वो कहती हैं कि ये सब उनके लिए किसी डरावने सपने जैसा है, पर उन्हें उम्मीद है कि एक दिन ये सब ख़त्म हो जायेगा और वो सामान्य जीवन जी पाएंगी.

Source: Metro