एक हैरतंगेज़ मामले में बॉम्बे सेशन कोर्ट ने एक महिला की अंतरिम बेल की अपील को खारिज कर दिया. इस महिला ने अपनी Ex-Girlfriend, जो उसकी Live-In पार्टनर भी थी, की न्यूड पिक्चर्स इन्टरनेट पर फैलाई और उसका ग़लत इस्तेमाल किया.

45 साल की ये महिला मुंबई के एक हॉस्पिटल में काम करती और उसकी पार्टनर भी उसी हॉस्पिटल में काम करती थी. ये मामला पिछले साल तब सामने आया, जब इस महिला ने अपनी लिव-इन पार्टनर की न्यूड पिक्चर अपनी WhatsApp DP बना कर इस्तेमाल की. उसने ये पिक्चर अपनी पार्टनर की मर्ज़ी के बिना तब खींची थी, जब वो बाथरूम में नहा रही थी. ये महिला एक साल से इस पिक्चर को इन्टरनेट पर कई जगह फ्लोट कर रही थी, ये कह कर कि ये उसकी ख़ुद की तस्वीर है.

महिला की Ex-Girlfriend का कहना है कि उसने ये फ़ोटो बदला लेने के लिए खींची थी, क्योंकि उसे अपनेआप ये शक हुआ कि मेरा इंटरेस्ट अब उसमें नहीं रहा.

महिला की Ex-Girlfriend ने उसकी तस्वीर WhatsApp से हटाने के लिए कई बार कहा, लेकिन थक हार कर उसे पुलिस स्टेशन में FIR फाइल करनी पड़ी. अभियुक्त महिला ने विक्टिम को धमकी भी दी कि वो उसका नाम बदनाम कर देगी.

फ़िलहाल, इस महिला ने अपना गुनाह क़ुबूल कर लिया है और उस पर Information Technology Act के तहत एक महिला के साथ अश्लील हरकत करने, उसकी इज़्ज़त को नुकसान पंहुचाने और आपराधिक धमकियों का इस्तेमाल करने के तहत केस फाइल किया गया है.

Source: TOI