आर्मी में धीरे-धीरे महिलाओं को बेहतर पोस्ट, पोज़िशन और ड्यूटी मिलने की शुरुआत हो चुकी है. सेना ने महिलाओं को साइबर वारफ़ेयर के लिए तैयार करने का एक नया प्रस्ताव रखा है. इस प्लान के हिसाब से महिलाओं को साइबर सेल की ज़िम्मेदारी सौंपी जाएगी.

Source: Indian Express

आर्मी चीफ़ बिपिन रावत का कहना है कि कुछ एक्सपर्ट्स के साथ मिल कर वो इस टीम को जल्द से जल्द से हरी झंडी देना चाहते हैं ताकि महिला अफ़सरों की स्किल्स का प्रभावशाली तरीके से इस्तेमाल हो सके.

Source: India Today

ये बात किसी से छुपी नहीं कि जो भी महिलाएं सेना में भर्ती होती हैं, उन्हें पुरुषों के मुक़ाबले अलग कम दिए जाते हैं. लेकिन इस फ़ैसले के बाद वीमेन पावर का अच्छा इस्तेमाल होने की उम्मीद की जा सकती है. ये बात शायद बहुत लोगों को पता न हो, लेकिन सेना में सिलेक्शन के लिए लड़कियों का भी वही फिज़िकल और मेंटल प्रोसेस होता है, जिससे लड़के गुज़रते हैं, इसलिए वो किसी भी काम में पुरुषों से पीछे नहीं.

इस फ़ैसले का स्वागत है!

Source: India Times