बीते 3 दिनों से हर जगह देश के वीर सपूत अभिनंदन वर्तमान की चर्चा हो रही है और होनी भी चाहिये, क्योंकि वायुसेना के इस विंग कमांडर ने पड़ोसी मुल्क़ में रहकर जो हिम्मत और हौसला दिखाया है, वो वाकई क़ाबिले-ए-तारीफ़ है.

Source: TN

कठिन हालातों में भी विंग कमांडर ने बेहद दिमाग़ और शांतिपूर्ण तरीके से काम लिया. विदेशी मुल्क़ में विंग कंमाडर का ये साहस देख कर दुनियावाले हैरत में पड़ गये और सभी ये सोचने लगे आख़िर उनमें ये जज़्बा आया कहां से, तो इस सवाल का जवाब है अभिनंदन की मां. अभिनंदन को ये हिम्मत और अटलता अपनी मां से विरासत में मिली है.

Source: TN

इस मामले पर वर्तमान परिवार के करीबी और रिटायर्ड सेनाधिकारी कैप्टन तरुण सिंघा ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि पाकिस्तान से सामने आई अभिनंदन की तस्वीरों में वो बेहद स्थिर और शांत दिखाई दिये, उन्हें ये गुण उनकी मां डॉ. शोभा वर्तमान से मिले हैं. डॉ. शोभा वर्तमान ने भी सैन्स फ़्रंंटियर के साथ दुनिया के बहुत से युद्धों और संघर्षों में अपनी सेवाएं प्रदान की हैं.

सिंघा बताते हैं, 'शोभा काफ़ी मजबूत महिला हैं. युद्ध के दौरान कई मुश्लिक हालातों वाले इलाकों में उन्होंने अपनी सेवाओं के ज़रिये मानवता का परिचय दिया. यही नहीं, घायलों के इलाज के साथ-साथ उन्होंने हैती में गर्भवती महिलाओं और उनके नवजातों तक की जान बचाकर सभी को नया जीवन दिया.'

Source: jantakiawaz

सिंघा के अनुसार, युद्धग्रस्त इलाकों में घायलों की सेवा के साथ-साथ डॉ. शोभा ने स्वास्थ्य और शिक्षा के मुद्दों पर बतौर एक्टिविस्ट भी काम किया है. दो साल पहले ही उन्होंने बच्चों के यौन शोषण के दोषियों को सज़ा दिलाने के लिये सोशल मीडिया पर एक कैंपेन की शुरूआत की थी.

वहीं अभिनंदन की मां के बारे में बताते हुए उनके कज़िन सी. कुंदनाधन ने बताया कि 'शोभा बचपन से ही बेहद बोल्ड रही हैं. अभिनंदन के माता-पिता दोनों ही बोल्ड रहे, लेकिन मां यानी शोभा ज़्यादा हैं. शायद इसका कारण ये है कि उन्होंने बचपन से ही मुश्किल हालातों का सामना किया और छोटी सी उम्र में ही पिता को खो दिया था.'

Source: maahyderabad

सिंघा ने हैती मिशन को याद करते हुए इंटरव्यू में कहा कि शोभा ने अपराधियों के गढ़ में लगभग 3 लाख भूकंप पीड़ितों की सेवा कर उनकी मदद की थी. हैती के साथ ही इस हिम्मती डॉक्टर ने आवरी, कोस्ट, नाइजीरिया, इराक जैसे युद्ध और आतंक प्रभाविक इलाकों में भी अपनी सेवाएं दी हैं.

Source: oneindia

रिपोर्ट के अनुसार, एक बार अभिनंदन से पूछा गया कि पायलट बनने के लिये सबसे ज़रूरी चीज़ क्या है, तो उनका जवाब था 'Bad Attitude'.

देश की सेवा में लगे वर्तमान परिवार वाकई अनोखा और हिम्मती है.